Subscribe to Gizbot

गूगल पर मंडराया शार्क का खतरा

Posted By:

महादेशों को जोड़ने के लिए गूगल द्वारा समुद्र की तली में बिछाए गए केबलों को शार्क से खतरा पैदा हो रहा है। कंपनी ने अमेरिका को एशिया से जोड़ने के लिए समुद्र में दो बड़े केबल लगाए हैं। तीसरा केबल गूगल का एशिया के भीतर नेटवर्क को विस्तार देता है। शार्क के मुख में प्राकृतिक रूप से वोल्ट संवेदी होने के कारण वे चुंबकीय क्षेत्र की तलाश कर सकते हैं।

कैलिफोर्नियां स्टेट युनिवर्सिटी, लांग बीच में शार्क लैब चलाने वाले प्रोफेसर क्रिस लाव ने कहा, "पूरे जैकेट तक पहुंचने और फाइबर को क्षतिग्रस्त करने के लिए एक छोटा सा कौर मारना काफी होगा।" नेटवर्क वर्ल्ड के मुताबिक, गूगल ने हालांकि शार्क को अपने केबल से दूर रखने के लिए केवलर जैसे रक्षात्मक परत के जरिए अपने केबल की सुरक्षा सुनिश्चित की है।

केबल की इस व्यवस्था के बारे में गूगल के उत्पाद प्रबंधक डान बेल्चर ने बोस्टन में आयोजित एक कार्यक्रम के दौरान पिछले सप्ताह यह जानकारी दी थी। 1980 के दशक में समुद्र की अतल गहराई में घड़ियाली शार्क के काट खाने से केबल चार बार क्षतिग्रस्त हुए थे।

<center><iframe width="100%" height="495" src="//www.youtube.com/embed/1ex7uTQf4bQ" frameborder="0" allowfullscreen></iframe></center>

ईडी को मिली नीरव मोदी की 176 स्टील की अलमारियां, 30 करोड़ का बैंक बैलेंस भी फ्रीज
ईडी को मिली नीरव मोदी की 176 स्टील की अलमारियां, 30 करोड़ का बैंक बैलेंस भी फ्रीज
South Western Railway: ग्रुप डी के बाद ग्रुप सी के पदों पर नियुक्तियां, 10 दिन के अंदर करें अप्लाई
South Western Railway: ग्रुप डी के बाद ग्रुप सी के पदों पर नियुक्तियां, 10 दिन के अंदर करें अप्लाई
Opinion Poll

Social Counting

पाइए टेक्नालॉजी की दुनिया से जुड़े ताजा अपडेट - Hindi Gizbot