अमेरिकी स्मार्टफोन यूजर विज्ञापनों से परेशान

Posted By:

अमेरिका में स्मार्टफोन उपयोगकर्ता इस बात को लेकर परेशान हैं कि लक्षित विज्ञापनों के लिए उनकी ऑनलाइन गतिविधियों पर निगाह रखी जा रही है। यह जानकारी एक अध्ययन से मिली। वैश्विक बाजार शोध कंपनी, इप्सोस ने यह अध्ययन प्रमुख वैश्विक डाटा निजता प्रबंधन (डीपीएम) कंपनी ट्रस्टई की ओर से किया। इस अध्ययन के मुताबिक अधिकतर स्मार्टफोन उपयोगकर्ता ऑनलाइन व्यवहार विज्ञापन (ओबीए) के विचार को पचा नहीं पा रहे हैं।

ट्रस्टई के मुख्य कार्यकारी अधिकारी क्रिस बैबेल ने कहा, "हमारे अध्ययन से पता चलता है कि अधिकतर अमेरिकी (68 फीसदी) उनकी ऑनलाइन गतिविधियों पर निगाह रखे जाने को लेकर परेशान हैं।

पढ़ें: 100 जीबी नहीं अब 200 जीबी मिलेगा फ्री ऑनलाइन स्‍टोरेज

शोध से हालांकि यह भी पता चला है कि एडच्वाइस आइकॉन के प्रति जागरूकता में 37 फीसदी वृद्धि दर्ज की गई है। एडच्वाइस आईकॉन डिजिटल विज्ञापन गठबंधन (डीएए) का हिस्सा है, जो ओबीए के लिए एक स्व-नियमन कार्यक्रम है। इस कार्यक्रम के तहत स्मार्टफोन उपयोगकर्ता लक्षित विज्ञापन के विकल्प से खुद को बाहर रख सकते हैं।

अमेरिकी स्मार्टफोन यूजर विज्ञापनों से परेशान

अध्ययन में हालांकि 33 फीसदी ने कहा कि एडच्वाइस पर मौजूद सूचना और ओबीए से बाहर रहने के विकल्प से वे लक्षित विज्ञापन के विचार के प्रति अधिक सकारात्मक महसूस कर सकेंगे। यह सर्वेक्षण अमेरिका में ऑनलाइन माध्यम से 18-75 वर्ष के 1000 लोगों के बीच किया गया। इनमें से 537 स्मार्टफोन उपयोगकर्ता थे और 978 ने कहा कि ऑनलाइन माध्यम में वे निजता को लेकर चिंतित हैं।

English summary
Smartphone users in the US are getting increasingly concerned about having their activity tracked to serve them targeted ads, a study has found.
Please Wait while comments are loading...
नृत्य करती महिला को पीएम की मां बताकर फंसी किरण बेदी, बाद में दी सफाई
नृत्य करती महिला को पीएम की मां बताकर फंसी किरण बेदी, बाद में दी सफाई
Chhath Pooja 2017: जानिए छठ पूजा के बारे में ये खास बातें...
Chhath Pooja 2017: जानिए छठ पूजा के बारे में ये खास बातें...
Opinion Poll

Social Counting