कामयाबी के लिए सच्चाई को दूसरा रूप देने की प्रवृत्ति रखते थे स्टीव जॉब्‍स

Posted By:

कामयाबी के लिए सच्चाई को दूसरा रूप देने की प्रवृत्ति रखते थे स्टीव जॉब्‍स

अमेरिका की संघीय जांच एजेंसी (एफबीआई) की दो दशक एक पुरानी फाइल सार्वजनिक की गयी है, जिसमें आईपैड, आईपॉड जैसे उत्पादों के लिए मशहूर कंपनी एप्पल के सह संस्थापक स्टीव जॉब्‍स के नशा करने और लोगों को भ्रमित करने की उनकी प्रवृत्ति के संबंध में उस समय चर्चित बातों का उल्लेख है।

रिपोर्ट के अनुसार उनके स्वभाव और चरित्र को लेकर सावल उठाए गए थे। यह फाइल 1991 में तैयार कराई गयी थी जब कि तत्कालीन अमेरिकी राष्टपति जार्ज एच डब्ल्यू बुश उन्हें अपने प्रशासन में महत्वपूर्ण निर्यात परिषद की जिम्मेदारी देने का विचार कर रहे थे।

जब बुश ने जॉब्स के बारे में जानकारी चाही तो एफबीआई ने उनके बारे में लोगों से बातचीत कर के उनके स्वभाव तथा चाल चरित्र और पृष्ठभूमि आदि के बारे में जानकारी जुटाई थी। उनके कुछ मित्रों ने एफबीआई को बताया कि स्टीव जॉब्‍स अपने मुकाम तक पहुंचने के लिए किसी भी हद तक जा सकते हैं और वास्तविकता को तोड़मरोड़ कर पेश कर सकते हैं।

191 पृष्ठ के इस रिपोर्ट को एफबीआई ने सूचना की स्वतंत्राता कानून के तहत कल जारी किया। गहन शोध और उनके दोस्तों, पड़ोसियों और सहयोगियों के साक्षात्कार पर आधारित इस रिपोर्ट में एफबीआई ने विश्वसनीयता और जिम्मेदारी से भरे इस पद के लिए उनके नाम की सिफारिश की थी।

Please Wait while comments are loading...
भाजपा से हाथ मिलाने के बाद नीतीश को सताने लगा यह डर
भाजपा से हाथ मिलाने के बाद नीतीश को सताने लगा यह डर
अगर की ये गलती, तो jio phone के सिक्योरिटी वाले 1500 रुपए 3 साल बाद भी नहीं मिलेंगे वापस
अगर की ये गलती, तो jio phone के सिक्योरिटी वाले 1500 रुपए 3 साल बाद भी नहीं मिलेंगे वापस
Opinion Poll

Social Counting