हिंदी प्रेमियों के लिए आई मूषक

Written By:

हिंदी प्रेमियों के लिए खुशखबरी है क्योंकि अब हिन्दी प्रेमियों के लिए पूरी तरह हिन्दी में काम करने वाली सोशल नेटवर्किंग साइट आ रही है। दसवें विश्व हिंदी सम्मेलन में शामिल होने वाले पुणे के अनुराग गौड़ एवं उनके साथियों ने यहां ट्विटर की ही तर्ज पर पूरी तरह से हिंदी में काम करने वाली मूषक सोशल नेटवर्किंग साइट अपने देशवासियों और हिंदी प्रेमियों के लिए प्रस्तुत कर दी है।

पढ़ें: माइक्रोमैक्स Yu Yunique के फीचर्स

हिंदी प्रेमियों के लिए आई मूषक

हिंदी सोशल नेटवर्किंग साइट मूषक के सीईओ अनुराग गौड़ की माने तो स्मार्टफोन पर उनकी इस सोशल नेटवर्किंग साइट मूषक को डाउनलोड करने के लिए गूगल प्ले स्टोर पर जाना होगा। साथ ही कम्प्यूटर पर इसे गूगल सर्च में डब्लूडब्लूडब्लू डॉट मूषक डॉट इन के नाम से खोजा जा सकता है।

पढ़ें: पॉकेट प्रिंटर, कीमत केवल 6999 रुपए

उन्होंने आगे कहा कि आज के डिजिटल युग में बदलती तकनीक के साथ हिंदी को लोगों से परिचित कराना होगा, ताकि लोग रोमन लिपि से पिछड़कर अपनी पहचान ना खो दें। आपको बताते चले कि जहां ट्विटर पर शब्दों की समय सीमा 140 शब्द हैं, वहीं मूषक पर इसे 500 रखा गया है।

हिंदी प्रेमियों के लिए आई मूषक

गौड़ के अनुसार, भाषा वैज्ञानियों का विचार है कि जो भाषा हम बोलते है और जानते हैं, उसे थोड़े प्रयत्नों से ही सरलता से लिखना सीख जाते हैं। गौड़ ने कहा कि मूषक का उद्देश्य हिंदी और देवनागरी को आज की पीढ़ी के लिए सामयिक और प्रचलित करना है। इस साइट पर हिंदी भाषी रोमन में टाइप करने से वहीं तत्काल हिंदी शब्द का विकल्प पा सकेंगे।

एप्‍लीकेशन डाउनलोड करने के लिए क्‍लिक करें 

एक अन्य सवाल के जवाब में ‘मूषक' के सीईओ ने कहा कि ट्विटर, फेसबुक सरीखे सोशल नेटवर्किंग साइट्स, जिसे हमारे नेताओं, अभिनेताओं और प्रतिष्ठित लोगों ने जोर-शोर से अपनाया है, वहां प्राथमिकता अंग्रेजी भाषा को दी जाती है और उसे ही देश की आवाज समझा जाता है। हिन्दी दोयम दर्जे की मानी जाती है। उन्होंने कहा कि मूषक द्वारा हम इस प्रक्रिया को सही मायनों में गणतांत्रिक बनाना चाहते हैं, जहां गण की आवाज गण की भाषा में ही उठे।

Read more about:
English summary
Ahead of the commencement of World Hindi Conference here, a Hindi networking site 'Mooshak' envisaged on the lines of popular English social media platform Twitter was launched today.
Please Wait while comments are loading...
कौशांबी में जलती चिता से पुलिस ने उठवाई लाश, जानिए वजह...
कौशांबी में जलती चिता से पुलिस ने उठवाई लाश, जानिए वजह...
गोरखपुर हादसे में डीएम ने सौंपी जांच रिपोर्ट, हुए चौंकाने वाले खुलासे
गोरखपुर हादसे में डीएम ने सौंपी जांच रिपोर्ट, हुए चौंकाने वाले खुलासे
Opinion Poll

Social Counting