भारत में फेसबुक ने लगाया है बड़ा दाव : फेसबुक COO

Written By:

    दुनिया की सबसे बड़ी सोशल नेटवर्किंग साइट फेसबुक अब भारत में अपने निवेश को भुनाने की तैयारी में है। इसके लिए कंपनी अपने बिजनेस को ज्‍यादा से ज्‍यादा लोगों की पहुंच में लाने की कोशिश करेगी। फेसबुक की मुख्य परिचालन अधिकारी शेरिल सैंडबर्ग ने आज कहा कि कंपनी अब भारत में अपने कारोबार से धन जुटाने की प्रक्रिया शुरू करेगी। भारत में फेसबुक उपयोगकर्ताओं की संख्या 10 करोड़ से अधिक है। वहीं 9 लाख लघु व मझोले उद्यम फेसबुक पर हैं।

    यूजर की संख्या के हिसाब से अमेरिका के बाद भारत फेसबुक के लिए सबसे बड़ा बाजार है। सैंडबर्ग ने कहा, हमने भारत में भारी निवेश किया है। भारत पर हमने बड़ा दाव लगाया है। अब हम अपने निवेश को भुनाने की तैयारी में हैं। हालांकि, सैंडबर्ग ने यह खुलासा नहीं किया कि फेसबुक किस तरीके से अपने निवेश को भुनाने की तैयारी में है।

    पढ़ें: स्‍मार्टफोन में डाउनोड कीजिए ये टॉयलेट एप्‍लीकेशन

    उन्होंने कहा, भारत हमारे लिए दूसरा सबसे बड़ा बाजार है। इसमें काफी क्षमता है। अमेरिका हमारे लिए सबसे बड़ा बाजार है। लेकिन जहां तक नेटवर्क पर लोगों की संख्या का सवाल है, भारत में हमारे पास काफी संभावनाएं हैं। वैश्विक स्तर पर फेसबुक के प्रयोगकर्ताओं की संख्या 1.2 अरब है।

    उन्होंने कहा कि 90,000 लघु और मझोले उद्यमों ने फेसबुक पर पेज बना रखे हैं जिन पर वे अपना विज्ञापन प्रस्तुत कर संभावित ग्राहकों तक पहुंच सकते हैं। उन्होंने कहा, ‘इनमें से कुछ प्रतिशत अपने पेज के लिए पैसा दे रहे हैं। इससे जाहिर होता हे कि यहां वृद्धि की बड़ी संभावना है।'

    पढ़ें: टैटू नहीं अब हैं 3डी टैटू का जमाना, देखिए कुछ बेहतरीन तस्‍वीरें

    लेटेस्ट टेक अपडेट पाने के लिए लाइक करें हिन्‍दी गिज़बोट फेसबुक पेज

    मार्क जुकरबर्ग का जन्‍म न्‍यूयार्क में हुआ था उनकी तीन बहने हैं रैंडी, डोना, एरिली। जुकरबर्ग के पिता डेंटिस्‍ट और मां मनोचिकित्सक है।

    मार्क जुकरबर्ग कम उम्र में ही प्रोग्रामिंग करने लगे थे इसके लिए उनके पिता ने डेविड न्‍यूमैन को ट्यूशन पढ़ाने के लिए हायर किया था। इसके अलावा हाई स्‍कूल में ही उनके पिता ने प्रोग्रामिंग स्‍कूल में मार्क का एडमीशन करा दिया था।

    हावर्ड विश्वविद्यालय में पढ़ाई के दौरान उन्‍होंने एक साइट बनाई थी फेसमैश जिसमें कालेज की कुछ तस्‍वीरों को पोस्‍ट किया गया था, इसके बाद साइट में यूजर से पूंछा जाता था उन्‍हें कौन सी तस्‍वीर सबसे ज्‍यादा पसंद आई। मगर हावर्ड विश्वविद्यालय ने मार्क जुकरबर्ग के इंटरनेट एक्‍सेस पर रोक लगा दी थी।

    शायद आपमें से कई लोगो को इस बात की जानकारी न हो की मार्क जुकरबर्ग को रेड और ग्रीन कलर ब्‍लाइंडनेस हैं। यानी जुकरबर्ग को ब्‍लू कलर आसानी से दिख जाता है जो फेसबुक का मेन कलर है।

    मार्क जुकरबर्ग हावर्ड की पढ़ाई बीच में ही छोड़कर कैलीफोर्निया चले गए जहां पर उन्‍होंने अपने प्रोजेक्‍ट के लिए इनवेस्‍टर ढूड़ा, 2005 में मार्क जुकरबर्ग ने फेसबुक डॉट कॉम डोमेन खरीदा था।

    मार्क जुकरबर्ग सबसे दुनिया के सबसे कम उम्र में बनने वाले अरबपति हैं। फेसबुक की आपार सफलता ने इन्‍हें यह पहचान दिलाई है। फोब्‍स पत्रिका के अनुसार मार्क जुबरबर्ग दुनियां के 14 वें सबसे अमीरि व्‍यक्ति हैं।


    लेटेस्ट टेक अपडेट पाने के लिए लाइक करें हिन्‍दी गिज़बोट फेसबुक पेज

    Please Wait while comments are loading...
    Opinion Poll

    पाइए टेक्नालॉजी की दुनिया से जुड़े ताजा अपडेट - Hindi Gizbot

    We use cookies to ensure that we give you the best experience on our website. This includes cookies from third party social media websites and ad networks. Such third party cookies may track your use on Gizbot sites for better rendering. Our partners use cookies to ensure we show you advertising that is relevant to you. If you continue without changing your settings, we'll assume that you are happy to receive all cookies on Gizbot website. However, you can change your cookie settings at any time. Learn more