DigiLocker क्या है, इसका उपयोग कैसे कर सकते है

    आज कल ड्राइविंग लाइसेंस, मतदाता पहचान पत्र या शिक्षा प्रमाण पत्र जैसे महत्वपूर्ण दस्तावेजों को हमेशा अपने साथ रखना बहुत ही महत्वपूर्ण हो गया है लेकिन उसके लिए इन दस्तावेजों के नुकसान या क्षति का जोखिम कोई नही उठाना चाहता है?लेकिन अब आप अपने सभी दस्तावेजों को अपने घर पर सुरक्षित रख कर उसकी ई-प्रतियों को, DigiLocker मोबाइल ऐप का उपयोग करके अपने फोन पर आसानी से रख सकते है।

    DigiLocker क्या है, इसका उपयोग कैसे कर सकते है

    सड़क परिवहन और राजमार्ग मंत्रालय ने राज्य परिवहन विभागों को लिखा है की वे DigiLocker और mParivahan में संग्रहीत दस्तावेज़ों को परिवहन विभागों द्वारा जारी अपनी मूल प्रतियों के बराबर माने। हालांकि, कभी-कभी यातायात पुलिस या मोटर वाहन विभाग ऐसे दस्तावेजों को वैध मानते नहीं हैं। यह विशेष रूप से उन मामलों में होता है जहां किसी ने यातायात नियम तोड़ दिया है जिसके लिए दस्तावेजों को यातायात विभाग द्वारा लगाया जाना है।मंत्रालय ने एक परिपत्र में कहा, "ऐसे दस्तावेजों के मूल प्रति के जब्त की कोई आवश्यकता नहीं है।

    एक आधिकारिक बयान में कहा गया है, "यह मंत्रालय में प्राप्त कई शिकायतों / आरटीआई आवेदनों के जवाब में है जहां नागरिकों ने शिकायत की है कि डिजीलॉकर या एमपीवाहन ऐप में उपलब्ध दस्तावेज यातायात पुलिस या मोटर वाहन विभाग द्वारा मान्य नहीं हैं।"

    DigiLocker क्या है वेबसाइटों और मोबाइल ऐप्स दोनों पर उपलब्ध

    DigiLocker आपके सभी दस्तावेज़ों को स्टोर करने के लिए एक डिजिटल लॉकर है।DigiLocker आधार कार्ड और सेलफोन नंबर दोनों से जुडा होता है क्योंकि सभी डेटा क्लाउड में संग्रहीत होते हैं इसलिए ये सरकार के डिजिटल इंडिया ड्राइव के हिस्से के रूप में मूल दस्तावेजों के उपयोग को सीमित करता है । आप इसमें अपने दस्तावेज़ों (पीडीएफ, जेपीईजी या पीएनजी प्रारूप) की स्कैन की गई प्रतियां अपलोड कर सकते हैं और कहीं भी इसे एक्सेस कर सकते हैं। आप इन अपलोड किए गए दस्तावेज़ों को भी ई-साइन कर सकते हैं, जो कि सेल्फ अटेस्टेड मूल दस्तावेजों की तरह काम करता है।

    DigiLocker क्या है, इसका उपयोग कैसे कर सकते है

    दूसरी ओर, सीबीएसई, रजिस्ट्रार कार्यालय या आयकर विभाग जैसे संगठन दस्तावेजों और प्रमाण पत्रों की इलेक्ट्रॉनिक प्रतियों को सीधे आपके ई-लॉकर्स में भी डाल सकते हैं।

    डिजीलॉकर के साथ पंजीकृत संगठनों में UIDAI, सड़क परिवहन और राजमार्ग मंत्रालय, आयकर विभाग, सीबीएसई सहित विभिन्न स्कूल बोर्ड और विभिन्न राज्यों और केंद्र सरकार के मंत्रालयों के विभाग शामिल हैं। नवीनतम आंकड़ों के मुताबिक, डिजीलॉकर के 1.35 करोड़ उपयोगकर्ता हैं, जो लोग पैन कार्ड, मार्कशीट्स, जाति प्रमाण पत्र, जन्म प्रमाण पत्र, राशन कार्ड इत्यादि के लिए इसका इस्तेमाल करते हैं।

    DigiLocker का उपयोग कैसे करें

    1. अपने स्मार्टफोन पर DigiLocker वेबसाइट पर जाये या फिर DigiLocker ऐप को अपने स्मार्ट फ़ोन पर डाउनलोड करे।
    2. फिर आप अपने आधार संख्या और मोबाइल नंबर का उपयोग करके एक ओटीपी की मदद से अपनी आईडी बनाये।
    3. उसके बाद अगर कुछ संगठन ने आपके किसी भी ई-दस्तावेज को अपलोड किया है, तो आप इसे अपने खाते में देख सकते हैं और आप अपने दस्तावेज़ अपलोड भी कर सकते हैं और उन्हें ई-साइन कर सकते हैं आपको ई-दस्तावेज़ के लिंक साझा करके दूसरों के साथ दस्तावेज़ साझा करने की सुविधा भी मिलती है।

    English summary
    Nowadays we are bound to keep our Driving licence,Voter ID,Qualification certificate etc with us every time because of which our documents may get damaged or lost. So to keep our important documents with us every time in a secure manner one should use Digilocker App in their smartphone
    Opinion Poll

    पाइए टेक्नालॉजी की दुनिया से जुड़े ताजा अपडेट - Hindi Gizbot

    X
    We use cookies to ensure that we give you the best experience on our website. This includes cookies from third party social media websites and ad networks. Such third party cookies may track your use on Gizbot sites for better rendering. Our partners use cookies to ensure we show you advertising that is relevant to you. If you continue without changing your settings, we'll assume that you are happy to receive all cookies on Gizbot website. However, you can change your cookie settings at any time. Learn more