Jio इंस्टीट्यूट के विवादों में आने का कारण क्या है...?

|

रिलायंस जियो आज के समय में बुलंदियों के आसमान छू रही है। जियो की सर्विस पर लोग आंख बंद करके भरोसा करने लगे हैं। जियो टेलिकॉम सेक्टर के आलावा बाकी चीजों पर भी काम कर रही है, लेकिन कई बार चीजें अपने हिसाब से होने में समय लग जाता है। इस बार भी कुछ ऐसा ही हुआ है।

Jio इंस्टीट्यूट के विवादों में आने का कारण क्या है...?

 

बता दें, मुकेश अंबानी का जियो इंस्टीट्यूट विवादों में आ गया है। संस्थान ने न तो कैंपस का निर्माण शुरू कियाा है और न ही कोई प्लान दिया है। जबकि जियो को एक साल के भीतर संस्थान को उत्कृष्ट बनाने की रिपोर्ट पेश करनी थी। इस लापरवाही के चलते एम्पावर्ड एक्सपर्ट कमेटी (EEC) ने जियो को नोटिस जारी कर दिया है।

यह भी पढ़ें:- Jio अब लॉन्च करेगा Super App, एक जगह मिलेगी 100 से ज्यादा सुविधाएं

ईईसी के चेयरमैन एन गोपालस्वामी ने बताया कि जियो ने माना है कि उनके काम में देरी हुई है और उन्होंने आश्वासन भी दिया कि वे चीजों को तेजी से बढ़ाएंगे। गोपालस्वामी ने कहा कि हमने एक सप्ताह के भीतर रिपोर्ट पेश करने की मांग की है। आरआईएल और Jio संस्थान की टीम ने इस मामले को लेकर किसी भी तरह की प्रतिक्रिया पेश नहीं की है। जियो के साथ समझौता करने में जुटे मैसाचुसेट्स इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी ने भी कोई जवाब नहीं दिया है। हालांकि Jio संस्थान की टीम ने EEC को समीक्षा बैठक में बताया कि इसका मुख्य परिसर अब महाराष्ट्र में कर्जत के बजाय नवी मुंबई में आएगा।

यह भी पढ़ें:- Jio vs Airtel vs Vodafone: 100 रुपए से कम वाले सबसे अच्छे प्लान

आरआईएल को कर्जत में कैंपस बनाने की परमिशन नहीं मिल पा रही थी। मामले के जानकार एक व्यक्ति ने बताया कि नवी मुंबई में भी निर्माण की अनुमति देने के लिए भूमि के उपयोग को बदलने के लिए आवश्यक अनुमतियां भी अभी तक नहीं मिली है। केंद्र सरकार ने जियो समेत छह संस्थानों को उत्कृष्टता का दर्जा बीते साल दिया था। इन छह संस्थानों में सिर्फ जियो ही ऐसा था जिसका न तो कोई कैंपस था न ही छात्र और फैकल्टी। सरकार इन संस्थानों को एक हजार करोड़ रुपए का फंड देकर विश्व स्तरीय बनाना चाहती है।

English summary
The Jio Institute of Mukesh Ambani has come into controversy. The Institute has neither started the campus nor has given any plan. While Jio was required to present the report to make the institute excellence within a year. Due to this negligence, the Empowered Expert Committee (EEC) has issued a notice to Jio.

पाइए टेक्नालॉजी की दुनिया से जुड़े ताजा अपडेट - Hindi Gizbot

Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
We use cookies to ensure that we give you the best experience on our website. This includes cookies from third party social media websites and ad networks. Such third party cookies may track your use on Gizbot sites for better rendering. Our partners use cookies to ensure we show you advertising that is relevant to you. If you continue without changing your settings, we'll assume that you are happy to receive all cookies on Gizbot website. However, you can change your cookie settings at any time. Learn more