व्हाट्सएप का नया नियम ग्रुप एडमिन के लिए बना मुसीबत

By Agrahi
|

व्हाट्सएप इन दिनों इस्तेमाल की जाने वाली सबसे पॉपुलर चैटिंग एप है। केवल चैटिंग ही नहीं बल्कि इसके जारी यूज़र्स कॉल, विडियो कॉल, और फोटोज आदि भी शेयर कर सकते हैं। व्हाट्सएप के दुनियाभर में करोड़ों एक्टिव यूज़र्स हैं।

 

10 मोदी एप्स, जिन्हें देख मोदी भी होते हैं खुश10 मोदी एप्स, जिन्हें देख मोदी भी होते हैं खुश

व्हाट्सएप का नया नियम ग्रुप एडमिन के लिए बना मुसीबत

यदि आप व्हाट्सएप पर हैं तो कई ग्रुप्स में भी आप होंगे, और कई ग्रुप्स के एडमिन भी आप होंगे। लेकिन बात दें कि अब ये ग्रुप एडमिन का रोल थोडा मुसीबत वाला हो सकता है।

दुनिया में यही एक ऐसी जगह है जहां हर कोई नौकरी करना चाहेगादुनिया में यही एक ऐसी जगह है जहां हर कोई नौकरी करना चाहेगा

दरअसल वाराणसी के डीएम और एसएसपी नितिन तिवारी ने यह तय किया है कि यदि किसी ग्रुप में कोई मिसलीडिंग जानकारी, गलत जानकारी शेयर कीजती है तो ग्रुप एडमिन के खिलाफ एफआईआर दर्ज हो सकती है।

यानी कि यदि किसी ग्रुप में गलत खबर, अफवाह, या झूठी खबर शेयर होती है तो उस ग्रुप के एडमिन के खिलाफ एफआईआर भी दर्ज हो सकती है।

 
Best Mobiles in India

English summary
WhatsApp Group admin can now be jailed for fake news and rumors. Read more detail in Hindi.

बेस्‍ट फोन

तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X