WhatsApp की नई पॉलिसी को स्वीकार नहीं किया जा सकता: भारत सरकार

|

व्हाट्सऐप की प्राइवेसी पॉलिसी का मामला थमने का नाम ही नहीं ले रहा है। अब भारत सरकार ने इस मामले में व्हाट्सऐप से जवाब मांगा है। भारत सरकार ने व्हाट्सऐप को पत्र लिखकर उनकी नई पॉलिसी के बारे में जवाब मांगा है। भारत सरकार के इलेक्ट्रॉनिक्स और इंफॉर्मेशन टेक्नोलॉजी मंत्रालय (MeitY) ने व्हाट्सऐप के सीईओ (CEO) विल कैथर्ट (Will Cathcart) को पत्र लिखकर भारत में उसकी नई प्राइवेसी पॉलिसी को वापस लेने के लिए कहा है।

WhatsApp की नई पॉलिसी को स्वीकार नहीं किया जा सकता: भारत सरकार

 

व्हाट्सऐप को लिखा गया पत्र

इस पत्र में भारत सरकार की तरफ से व्हाट्सएप के सीईओ (CEO) विल कैथर्ट (Will Cathcart) को कहा गया है कि व्हाट्सऐप के द्वारा किए जा रहे बदलाव ठीक नहीं है। उससे यूज़र्स की प्राइवेसी को खतरा है, जिसे स्वीकार नहीं किया जा सकता है।

भारत सरकार ने लिखा पत्र

व्हाट्सएप के सीईओ (CEO) विल कैथर्ट (Will Cathcart) को लिखे हुए पत्र में व्हाट्सऐप की नई प्राइवेसी पॉलिसी के बारे में सवाल उठाते हुए भारत सरकार के मंत्रालय MeitY ने कहा है कि व्हाट्सऐप की नई पॉलिसी के अनुसार वह यूज़र्स के डेटा को अपनी पेरेंट कंपनी फेसबुक के साथ शेयर करेगी, इसकी वजह से फेसबुक की दूसरी कंपनियों को भी यूज़र्स के डाटा की जानकारी मिलेगी, जो किसी भी तरीके से ठीक नहीं है।

यूज़र्स की प्राइवेसी को खतरा: भारत सरकार

भारत सरकार ने कहा है कि भारत व्हाट्सऐप के लिए सबसे बड़ा यूज़र बेस है और व्हाट्सऐप की नई पॉलिसी के बारे में कंपनी का कहना है कि, उसे हर हाल में अपनाना ही होगा वरना यूज़र्स को अपना अकाउंट डिलीट करना पड़ेगा। ऐसे में व्हाट्सऐप की ये अलग-अलग नीतिया बताती है कि वो भारतीय यूज़र्स का सम्मान नहीं करता है।

8 फरवरी को नहीं बंद होगा किसी का व्हाट्सऐप

आपको बता दें कि व्हाट्सऐप अपने नए प्राइवेसी पॉलिसी को फिलहाल लागू करने का फैसला टाल दिया है। 8 फरवरी तक किसी भी यूज़र्स को नई पॉलिसी स्वीकार करने के लिए बाध्य नहीं किया जाएगा और ना ही किसी भी यूज़र्स का अकाउंट बंद किया जाएगा लेकिन व्हाट्सऐप ने अपनी इन नई पॉलिसी का रिव्यू करने के लिए 15 मई तक का वक्त दिया है। इसका मतलब है कि 15 मई के बाद व्हाट्सऐप अपने इन पॉलिसी को लागू करेगी।

 

क्या व्हाट्सऐप पॉलिसी बदलेगा...?

अब ऐसे में व्हाट्सऐप को लिखे गए भारत सरकार की चिट्ठी का क्या जवाब आता है, यह वाकई देखने योग्य होगा। हालांकि व्हाट्सऐप की इस नई पॉलिसी और खासतौर पर स्वीकार करें या अकाउंट डिलीट करें वाली अहंकारी भाषा का जवाब लाखों-करोड़ों यूज़र्स ने व्हाट्सऐप अकाउंट को खुद ही छोड़कर सिग्नल और टेलिग्राम को अपनाकर दे दिया है। अब देखना होगा व्हाटसऐप अपनी इन पॉलिसी में बदलाव करती है या नहीं।

Most Read Articles
 
Best Mobiles in India

English summary
The Government of India has written a letter to WhatsApp seeking answers about their new policy. The Ministry of Electronics and Information Technology (MeitY), Government of India, has written a letter to WhatsApp CEO (CEO) Will Cathcart asking him to withdraw his new privacy policy in India.

बेस्‍ट फोन

तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X