'विकीपीडिया जीरो' कार्यक्रम बंद हो जाएगा लेकिन क्‍यों ?

Written By: Deepa

    अमेरिका और यूरोप के बाहर विकीपीडिया को लेकर कम जागरूकता का हवाला देते हुए विकीमीडिया फाउंडेशन (डब्ल्यूएमएफ) ने घोषणा की है कि वह विकासशील देशों में अपनी 'विकीपीडिया जीरो' कार्यक्रम को बंद कर रहा है, जिसके तहत मोबाइल फोन पर विकीपीडिया की सेवा मुफ्त मुहैया कराई जाती है. फाउंडेशन के मुताबिक, साल 2016 से ही इस सेवा के लेने वालों की संख्या में तेज गिरावट दर्ज की जा रही है.

    फाउंडेशन ने एक ब्लॉग पोस्ट में कहा, इसका कारण मोबाइल डेटा की लागत में आई कमी तथा मोबाइल उद्योग में तेजी से जारी गतिशीलता है. फाउंडेशन ने कहा कि वह इस कार्यक्रम के लिए नए कैरियर के साथ आगे भागीदारी नहीं करेगी तथा 'विकीपीडिया जीरो' कार्यक्रम साल 2018 में बंद कर दिया जाएगा.

    'विकीपीडिया जीरो' कार्यक्रम बंद हो जाएगा लेकिन क्‍यों ?

    इस सेवा की शुरुआत 2012 में की गई थी. इसके तह म्यांमार और नेपाल समेत कई विकासशील देशों में इस सेवा की शुरुआत की थी और 80 करोड़ से ज्यादा लोगों को इसकी पहुंच प्रदान की थी.

    Easy Lock App : Give easy lock to your smartphone (HINDI)

    इस दौरान, संगठन ने कहा है कि वह विकासशील दुनिया के लोगों की सेवा के लिए नई संभावनाओं की तलाश में जुटी है.

    English summary
    A half-dozen years after launching Wikipedia Zero, The Wikimedia Foundation is sunsetting the program. Announced in 2012, it was the result of partnerships with mobile carriers, designed to waive the cost of accessing the free encyclopedia in developing countries, where data fees presented a barrier to accessing the site’s seemingly bottomless well of information.
    Opinion Poll

    पाइए टेक्नालॉजी की दुनिया से जुड़े ताजा अपडेट - Hindi Gizbot

    X
    We use cookies to ensure that we give you the best experience on our website. This includes cookies from third party social media websites and ad networks. Such third party cookies may track your use on Gizbot sites for better rendering. Our partners use cookies to ensure we show you advertising that is relevant to you. If you continue without changing your settings, we'll assume that you are happy to receive all cookies on Gizbot website. However, you can change your cookie settings at any time. Learn more