YouTube ने लिया बड़ा एक्शन, अब इन वीडियो को हटा देगी अपने प्लेटफॉर्म से

|

YouTube ने हाल ही में एक डेवलपमेंट में खुलासा किया कि यह वैक्सीन के बारे में गलत जानकारी वाले सभी वीडियो को हटा देगा और ब्लॉक कर देगा। Google के स्वामित्व वाली स्ट्रीमिंग कंपनी ने कहा कि वैक्सीन लगाने से ऑटिज्म, कैंसर या बांझपन हो सकता है के दावों वाले वीडियो को प्लेटफॉर्म से हटा दिया जाएगा।

 
YouTube ने लिया बड़ा एक्शन, अब इन वीडियो को हटा देगी अपने प्लेटफॉर्म से

यूट्यूब ने कहा कि वह वर्तमान में प्रशासित वैक्सीन पर नए दिशानिर्देशों के साथ YouTube पर मेडिकल मिसिन्फॉर्मेशन पॉलिसी का विस्तार कर रही है, जिन्हें स्थानीय स्वास्थ्य अधिकारियों और विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) द्वारा सुरक्षित और प्रभावी होने की पुष्टि की गई है।

अब YouTube वीडियो को चंद मिनटों में डेस्कटॉप पर भी कर सकेंगे डाउनलोड, यहाँ जानें पूरी खबरअब YouTube वीडियो को चंद मिनटों में डेस्कटॉप पर भी कर सकेंगे डाउनलोड, यहाँ जानें पूरी खबर

YouTube कोविड-19 वैक्सीन की गलत जानकारी देने वाले वीडियो को हटाएगा

"आज का नीति अपडेट हमारे प्लेटफॉर्म पर वैक्सीन और स्वास्थ्य संबंधी गलत सूचनाओं को दूर करने के लिए एक महत्वपूर्ण कदम है, और हम उन नीतियों और उत्पादों में निवेश करना जारी रखेंगे जो हमारे दर्शकों और पूरे YouTube समुदाय के लिए उच्च-गुणवत्ता की जानकारी लाते हैं," कंपनी ने एक ब्लॉगपोस्ट में कहा।

अब इन स्मार्टफोन में नहीं चलेंगे Gmail, YouTube, Maps जैसे Google के ऐप्स, जानें कारणअब इन स्मार्टफोन में नहीं चलेंगे Gmail, YouTube, Maps जैसे Google के ऐप्स, जानें कारण

यूट्यूब के अनुसार, ऐसी सामग्री को हटा दिया जाएगा जो झूठा आरोप लगाती है कि वैक्सीन खतरनाक हैं और पुराने स्वास्थ्य प्रभाव का कारण बनते हैं। जो वीडियो दावा करते है कि वैक्सीन लगवाने से बीमारियां होंगी, ऐसे वीडियो को हटाया या ब्लॉक कर दिया जाएगा।

इसमें ऐसी सामग्री शामिल होगी जो झूठा कहती है कि अप्रूव्ड वैक्सीन ऑटिज़्म, कैंसर या बांझपन का कारण बनते हैं, या कि वैक्सीन्स में पदार्थ उन्हें प्राप्त करने वालों को ट्रैक कर सकते हैं।

कंपनी ने कहा, "हमारी नीतियां न केवल खसरा या हेपेटाइटिस बी जैसे विशिष्ट नियमित वैक्सिनेशन को कवर करती हैं, बल्कि टीकों के बारे में सामान्य बयानों पर भी लागू होती हैं।"

 

कहीं आपका COVID-19 वैक्सीन सर्टिफिकेट फेक तो नहीं है, ऐसे करेंकहीं आपका COVID-19 वैक्सीन सर्टिफिकेट फेक तो नहीं है, ऐसे करें

YouTube के अनुसार, उनके सामुदायिक दिशानिर्देश पहले से ही कुछ प्रकार की मेडिकल मिसिन्फॉर्मेशन को प्रतिबंधित करते हैं।

"हमने लंबे समय से ऐसे कंटेंट को हटा दिया है जो हानिकारक उपचार को बढ़ावा देती है, जैसे कि तारपीन पीने से बीमारियां ठीक हो सकती हैं," कंपनी ने कहा।

पिछले साल से, यूट्यूब ने कोविड -19 वैक्सीन की नीतियों का उल्लंघन करने वाले 130,000 से अधिक वीडियो हटाए हैं और अब यह ज्यादा स्ट्रिक्ट हो रहा है और जो भी वीडियो गलत जानकारी देते हैं उन्हें यूट्यूब अपने प्लेटफॉर्म से हटा देगा।

Most Read Articles
 
Best Mobiles in India

English summary
Youtube will remove or block Covid-19 vaccine misinformation videos.

बेस्‍ट फोन

तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X