शराब, सिगरेट, पान मसाला नहीं खाते फिर भी नशेड़ी हैं आप

By Rahul
|

"नशा बुरी चीज है" स्‍कूल से लेकर कालेज तक हमे यहीं सिखाया जाता है बेटा सिगरेट पीना गलत बात है, पान मसाला गंदे लोग खाते हैं। लेकिन आज बच्‍चों से लेकर उनके मां-बाप एक ऐसे नशे की गिरफ्त में आ चुके हैं जिससे वे चाह कर भी बाहर नहीं निकल सकते। नतीजा आप सबके सामने हैं, पार्कों में बच्‍चों के खेलने की आवाज नहीं बल्‍कि कैमरे से सेल्‍फी खींचने की आवाज ज्‍यादा सुनाई पड़ेगी, घरों में एक्‍सबॉक्‍स से लेकर दुनिया भर के वीडियो गेम्‍स भरे पड़े हैं। कुछ लोगों ने तो फेसबुक को अपनी दूसरी बीवी बना लिया है। दिन भर उसी से बतियाएंगे, रोएंगे और रात में फर्जी की कसमें-वसमें खाएंगे।

पढ़ें: 15 करोड़ बार देखा गया ये वीडियो, आप भी देखने को हो जाएंगे मजबूर!

यहां तक लोग अब अपनी आखों से देखने की बजाए मोबाइल स्‍क्रीन पर देखना ज्‍यादा पसंद करते हैं इसीलिए किसी भी शो में जाइए लोगों के सर नहीं हाथ दिखेंगे वो भी मोबाइल कैमरा ऑन किए हुए। अब ये सब में आपको इस लिए बता रहा हूं क्‍योंकि हमारे फ्रांस में रहने वाली भाई साहब Jean Jullien ने कुछ कार्टून बनाए हैं जो इस सच्‍चाई को ज्‍यादा बेहतर तरीके से बयां करते हैं आप खुद ही देख लीजिए।

Mobile addiction

Mobile addiction

पहले मोबाइल पर मुंडी झुकाकर दिन गुजरता था अब स्‍मार्टवॉच भी आ गईंं हैं तो थोड़ा हाथों को भी तकलीफ देनी पड़ती है। 

Mails

Mails

Mails तो ऐसे थोक के भाव आती है जैसे एक के साथ 10 का ऑफर चल रहा है। यहां तक की हॉटसीट पर बैठने के बाद भी ऑफर की मेल चेक करते हैं। 

Iphone
 

Iphone

जिसे देखो एपल लेना चाहता है भले ही जेब में 10 रुपए से ज्‍यादा न हों। 

First photo then food

First photo then food

आजकल खाना की खुशबू हमारी नाक से पहले फोन के कैमरे को अपनी ओर खींच लेती है तभी तो टेबल पर खाना आया नहीं की उसकी फोटो पहले अपलोड हो जाती है। 

Smile Please

Smile Please

सेल्‍फी न हो गई कुल्‍फी हो गई, कोई तुकबंदी नहीं बनी फिर भी बोल देता हूं। पहले तो लोग दौड़कर फोटो क्‍लिक करवाने के लिए खड़े हो जाते थे। लेकिन अब फोटो लेने वाला पहले खुद की फोटो लेता है फिर आपकी। 

Photography

Photography

"भाई जरा सर नीचे करनाा " ये आवाजे अक्‍सर आपने स्‍टेज शो या फिर सिनेमा हॉल में सुनी होगी लेकिन आजकल लोग इसकी जगह ये बोलते हैं भाई जरा मोबाइल नीचे करना आगे कुछ दिख नही रहा है। 

Alone

Alone

क्‍यामत से क्‍यामत तक का ये गाना तो आप सबने सुना होगा "अकेले हैं तो क्‍या गम है " बस या फिर ट्रेन में सफर के दौरान कई नए दोस्‍त बन जाते थे लेकिन अब तो वही फेसबुक के फ्रेंड पूरे सफर में साथ रहते हैं ऑनलाइन। बगल में कौन बैठा है किसी को कुछ खबर नहीं रहती। 

Barcode scanner

Barcode scanner

बार कोड स्‍कैनर भारत में अभी इतने पॉपुलर नहीं हूए हैं जितने दूसरे देशों में हैं। फोन में स्‍कैन ऑन किया स्‍कैन किया और पेमेंट हो गया। कुछ दिनों में लोग स्‍कैन करने के बाद ही पहचानेंगे कि ये मिश्रा जी है या शुक्‍ला जी। 

During Dinner

During Dinner

पहले खाने की टैबल से आवाज आती थी मम्‍मी रोटी खत्‍म जल्‍दी लाओं आजकल खाना खा लो 1 घंटे से सामने रखा है। 

Online meeting

Online meeting

संडे को भी अब लोग पेजामें में मीटिंग ले सकते हैंं अरें भाई लैपटॉप के कैमरे में किसे दिख रहा है नीचे क्‍या पहने हैं। जब मन हो मीटिंग लो एक क्‍या दिन में 10 मीटिंग ले सकते हैं भाई। 

News paper

News paper

अखबार पलटने का झंझट अब नहीं रहा स्‍वाइप करिए। ऑनलाइन इतने अखबार मिलेंगे कि सुबह की चाय से लेकर रात की कॉफी तक पढ़ते ही रहेंगे। हम में से कई ऐसा करते भी हैं। 

No social media

No social media

जरा सोचिए नहीं सोच सकते फिर भी सोचिए कि अगर ऐसी जगह आप चले जाएं जरा पर न फेसबुक हो न मेल और न ही इंटरनेट कितना  सुकून मिलेगा। मैने कहा था न नहीं सोच सकते। 

Night alert

Night alert

रात में स्‍मार्टफोन को पास की रख कर सोते हैं कहीं रात में वो राने लगे तो... 

14

14

सुनिए सुबह हो गई, अब तो लैपटॉप बंद कर दीजिए। रात से ही भसड़ कर रहे हैं उसमें। 

QWERTY

QWERTY

ब्‍लैकबेरी अपने क्‍वार्टी की-बोर्ड की वजह से काफी पॉपुलर था लेकिन अब क्‍वार्टी की पैड जा चुके हैं जबकि मैसेजिंग एप्‍लीकेशनों की बाड़ आ चुकी है। ऐसे में लैंडलाइन फोन में भी क्‍वाटीकी-पैड होना चाहिए। 

Most Read Articles
 
Best Mobiles in India

English summary
These Cartoons Capturing Our Addiction With Modern Technology Are Spot On

बेस्‍ट फोन

तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X