चाइना में बना नोकिया का शानदार कैंपस

Posted by:

चाइना के बीजिंग शहर में बना नोकिया का नया कैंपस न सिर्फ बाहर से अपनी खूबसूरती बयां करता है बल्‍कि अंदर से भी कैंपस का नजारा देखते ही बनता है। नोकिया ने नए कैंपस को बीजिंग के थोड़ा बाहर बनाया गया है इसकी डिजाइन को खासतौर से पर्यावरण के अनुकूल डिजाइन किया गया है जिससे ऊर्जा की ज्‍यादा से ज्‍यादा बचत हो सके।

पढ़े: जल्‍द आपके सामने होंगे ये 8 स्मार्टफोन

कैंपस के ग्राउंड फ्लोर में आपको हर सुविधा मिल जाएगी। नोकिया ने इसके लिए कैंपस में ही , सुपरमार्केट, रेस्‍ट्रोरेंट, बैंक, लांड्री सर्विस के साथ मेडिकल की सुविधा भी दी है। कैंपस में दिन के समय पूरी रोशनी सभी फ्लोर में बराबर पड़ती है जिससे दिन में बिजली की खपत काफी कम होती है। नोकिया का पूरा कैंपस 829,350 स्‍क्‍वायर फुट एरिया में फैला हुआ है। नोकिया के नए कैंपस बिल्‍डिंग को यूएस ग्रीन बिल्‍डिंग काउंसिल से LEED Gold Certificate भी मिल चुका है। आईए देखते हैं नोकिया नया ईको फ्रेंडली कैंपस।

लेटेस्ट टेक अपडेट पाने के लिए लाइक करें हिन्‍दी गिज़बोट फेसबुक पेज

Nokia China Campus

नोकिया कैंपस के अंदर दिन के समय भी इतनी रोशनी रहती है दिन में लाइट की जरूरत ही नहीं पड़ती। 

Nokia China Campus

चाइना में बने नोकिया कैंपस में कैंटीन के अलावा मॉल, मेडिकल, शॉपिंग करने की सभी सुविधाएं दी गई हैं। 

Nokia China Campus

नोकिया कैंपस को यूएस की ग्रीन बिल्‍डिंग काउंसिल से LEED Gold Certificate भी मिल चुका है।

Nokia China Campus

नोकिया का पूरा कैंपस 829,350 स्‍क्‍वायर फुट एरिया में फैला हुआ है।

Nokia China Campus

कैंपस को पूरी तरह से ईको फ्रेंडली बनाया गया है। 

Nokia China Campus

नोकिया कैंपस में सभी डिपाटर्मेंट बनाए गए हैं ताकि उन्‍हें एक जगह से कंट्रोल किया जा सके। 

Nokia China Campus

चाइना में बना नोकिया कैंपस

Nokia China Campus

चाइना में बना नोकिया कैंपस

Nokia China Campus

कैंपस में डबल ग्‍लास तकनीक का प्रयोग किया गया है जो कैंपस के अंदर का तापमान मेंटेन रखता है। 

Nokia China Campus

कैंपस में एक बड़ा थियेटर भी बना हुआ है जहां पर ईवेंट आर्गनाइज किए जाते हैं। 


लेटेस्ट टेक अपडेट पाने के लिए लाइक करें हिन्‍दी गिज़बोट फेसबुक पेज

Please Wait while comments are loading...
तारा शाहदेव की सास कहती थी- धर्म बदल लो नहीं तो बिस्‍तर यही रहेगा, मर्द बदलते रहेंगे
तारा शाहदेव की सास कहती थी- धर्म बदल लो नहीं तो बिस्‍तर यही रहेगा, मर्द बदलते रहेंगे
संभल में अपनी सास से संभलकर रहना दामाद जी!
संभल में अपनी सास से संभलकर रहना दामाद जी!
Opinion Poll

Social Counting