जैली प्रो रिव्यु : शौक बड़ी ... 'छोटी' चीज है!

Written By:

स्मार्टफोन का नाम सुनते ही दिमाग में जो तस्वीर बनती है वो क्लासी-लुक्स, फाइन डिज़ाइन, स्लीक बॉडी और सबसे जरुरी बिग स्क्रीन डिवाइस की होती है। लेकिन आज मैं जिस फोन की बात करने जा रही हूं वो इससे थोड़ा अलग है एक तरह से कहें बिल्‍कुल उलट, इसका अंदाजा आप इसी से लगा सकते हैं कि इस फोन की स्‍क्रीन एक स्‍मार्टवॉच की स्‍क्रीन से थोड़ी ही बड़ी है। 

बिग स्क्रीन और बिग बैटरी फोन Xiaomi Mi Max 2 लॉन्च, कीमत 16,999 रु

जैली प्रो रिव्यु : शौक बड़ी ... 'छोटी' चीज है!

जी हां मैं बात कर रही हूं यूनीहर्ट्ज़ के नए स्मार्टफोन 'जैली प्रो' के बारे में। इस स्मार्टफोन को दुनिया के सबसे छोटे 4G स्मार्टफोन होने का टैग मिला है। कंपनी की मानें तो यह छोटा सा 4जी स्मार्टफोन हर किसी के लिए सही है। मेरे लिए तो ये किसी क्‍यूट से खिलौने की तरह है।

जैली प्रो रिव्यु : शौक बड़ी ... 'छोटी' चीज है!

Unihertz Jelly Pro First Impressions !! यूनीहर्ट्ज़ जेली प्रो फर्स्ट इम्प्रैशन !!

खैर फोन कितना सही है और कितना नहीं ये आप पूरा रिव्यु पढ़कर तय कीजिएगा। तो सबसे पहले शुरू करते हैं फोन की पैकिंग से।

यूनीहर्ट्ज़ जैली प्रो का बॉक्‍स जब मैने खोला तो सबसे पहले मुझे मिला एक यूएसबी केबल, ट्रेवल एडाप्टर और साथ ही एक यूज़र गाइड भी। वैसे मेरे पास जो फोन है वो है व्‍हाइट कलर का इसके अलावा ये ब्‍लैक और ब्‍लू कलर में भी आपको मिल जाएगा।

लेटेस्ट टेक अपडेट पाने के लिए लाइक करें हिन्‍दी गिज़बोट फेसबुक पेज

डिज़ाइन

अब चलते हैं फोन के डिज़ाइन की ओर , जिस पर सभी यूज़र्स की नजर सबसे पहले पड़ती है। जैली प्रो के डिज़ाइन में कुछ नया खास देखने को नहीं मिलता है, हां इसके साइज़ को देख कर सभी की निगाहें इस पर टिक जरुर जाती हैं। आज के समय में जब हर कोई बड़े स्क्रीन साइज़ फोन इस्तेमाल करते हैं, तो ऐसे में यह छोटा मोबाइल बेहद आकर्षक लगता है। लेकिन यदि आप इसके डिज़ाइन से ज्यादा उम्मीद लगाए बैठे हैं तो बता दें कि यह आपकी उम्मीदों पर बिलकुल खरा नहीं उतरेगा। यह एकदम सामान्य लुक और डिज़ाइन के साथ आता है।

साइज़-हथेली के बराबर

जैली प्रो स्मार्टफोन की लंबाई 92.3mm है, जबकि यह 43mm चौड़ा है। इस फोन की मोटाई 13.3mm है। इन नंबर्स को देखर आप समझ ही गए होंगे कि इस फोन का साइज़ लगभग कितना है। सरल भाषा में कहें तो यह केवल आपकी हथेली के बराबर है, जो आपकी जीन्स के कॉइन पॉकेट में फिट हो जाएगा।

 

लुक्स- ‘टॉय फ़ोन'

छोटा साइज़ होने के कारण जहाँ यह काफी हैंडी है, वही कई बार इसके हाथ फिसलने और गिरने की आशंका भी ज्यादा रहती है। हाथ में तो यह एक ‘टॉय फ़ोन' जैसा दिखता है। इसे देखकर कई बार लगता है जैसे किसी नार्मल साइज़ के फोन को ठोक-पीट कर उसका साइज़ छोटा कर दिया हो।

इस फोन में प्लास्टिक बॉडी दी गई है, जबकि फोन के चारों ओर मेटल रिम है। साथ ही इस फोन में कर्व्ड एज हैं। फोन के फ्रंट में आपको इयरपीस के साथ फ्रंट कैमरा मिलेगा। फोन के राईट साइड में आपको पॉवर बटन मिलेगा और साथ में दिया गया है यूएसबी पोर्ट। इसके लेफ्ट में आपको वॉल्यूम रॉकर्स मिलेंगे और फोन के टॉप पर 3.5mm का हैडफ़ोन जैक दिया गया है। इस फोन के बैक में आपको मिलेगा रियर कैमरा, जिसके साथ है एलईडी फ़्लैश लाइट। फोन के बैक में नीचे की ओर आपको ब्रांड लोगो मिलेगा और उसके ठीक नीचे स्पीकर ग्रिल दी गई है।

डिस्प्ले

इस फोन के साइज़ के बाद इसका डिस्प्ले सबको अपनी ओंर खींचता है । इस फोन में 2.4 इंच टीएफटी एलसीडी डिस्प्ले है और यह 240*432 पिक्सल रेजोल्यूशन के साथ आता है। फोन की डिस्प्ले में नीचे की ओर तीन टच बटन दिए गए हैं। 

इस फोन का डिस्प्ले कुछ खास एक्सपीरियंस नहीं देता है। इसमें काफी सामान्य कलर दिखाई देते हैं। हालाँकि कई बार आपको इसका डिस्प्ले क्लियर नहीं लगेगा, ऐसा फोन स्क्रीन के कम रेजोल्यूशन के कारण भी होता है। फोन के कलर धुले हुए से भी लगते हैं। डिस्प्ले के लिहाज से आप इस फोन से ज्यादा उम्मीद नहीं रख सकते हैं, क्योंकि इसे मीडिया कंसम्पशन के लिए नहीं बनाया गया है।

इस फोन में वीडियो आदि देखना इसकी छोटी स्क्रीन के कारण मुश्किल है, कई बार तो आपको फोन में नार्मल एप्स देखने के लिए भी आंखें बड़ी करनी पड़ेंगी। ‘पर कहते हैं शौक बड़ी चीज है, बस इस बार शायद साइज़ में थोड़ी छोटी है।‘कुल मिलकर कहें तो यूनीहर्ट्ज़ ने इस फोन के डिस्प्ले में कुछ खास नहीं किया है। अगर देखा जाए तो यह फोन कम कीमत का भी है, लेकिन भारतीय मार्केट के हिसाब से जहां, कई अन्य कंपनियां अपने बजट स्मार्टफोन को बेहतर से बेहतर बनाने में जुटी है, वहां यूनीहर्ट्ज़ कुछ नया करने में कामयाब नहीं दिखाई दी है।

यह फोन आपका सेकेंडरी फोन बन सकता है या नहीं इसमें अभी भी डाउट बना हुआ है, क्योंकि अब तक इसका डिस्प्ले न ही ज्यादा खास रहा है और फोन का डिज़ाइन भी आपको आकार के अलावा आकृषित करने में ज्यादा सफल होता नहीं दिखता है।

 

कैमरा क्‍वालिटी

आज के यूज़र की कैमरा डिमांड को ध्यान में रखें तो यह एक ऐसा फीचर है जिससे कोई भी कॉम्प्रोमाइज़ नहीं करना चाहता है तो फिर मैं क्‍यों करूं। एक ओर जहाँ कम से कम कीमत के फोन भी बेहतर कैमरा क्वालिटी पर फोकस करते हैं वही जैली प्रो स्मार्टफोन एक बार फिर आपको निराश कर सकता है। खैर इस छोटे और कम बजट के फोन से उम्मीद भी नहीं की जा सकती है।

न ही इस फोन के कैमरे को मार्केट में मौजूद अन्य स्मार्टफोन कैमरा से कम्पेयर किया जा सकता है। फोन का रियर कैमरा 8 मेगापिक्सल का है। जाहिर है फोन में 8 मेगापिक्सल का कैमरा सुनते ही थोड़ी उम्मीद तो जगती है, हालांकि ऐसा होता नहीं है। जैली प्रो फोन के रियर कैमरा से ली गई कुछ तस्वीरें हम आपको दिखा रहे हैं।

 

कैमरा सैंपल :HDR mode on

HDR मोड ऑन कर फोन से खींची तस्वीर कुछ ऐसी दिखती है।

कैमरा सैंपल: HDR mode off

HDR मोड ऑफ़ कर फोन से खींची गई तस्वीर।

कैमरा सैंपल : पैनोरमा मोड

पैनोरमा मोड में क्लिक की गई यह तस्वीर आप देख सकते हैं।

कैमरा सैंपल : नार्मल

इस फोन से चाहे आप लो लाइट में तस्वीरें ले या सामान्य, आपको रिजल्ट में कुछ खास फर्क नहीं दिखेगा। अच्छी लाइटिंग भी इस फोन के कैमरे को बेहतर रिजल्ट देने में मदद नहीं कर पाती हैं।

कैमरा सैंपल : इंडोर लाइट

आप देख सकते हैं कि ज्यादतर तस्‍वीरों से रंग जैसे उड़ा हुआ सा लगता है। इसकी कई तस्‍वीरें आपको ब्लर यानी धुंधली भी लगेंगी। फोटो को ज़ूम करने के बाद यह एकदम फटने लगती हैं। मरे हिसाब से कैमरे के मामले में ये कहीं फिट नहीं बैठता। 

फ्रंट कैमरा

इस फोन में फ्रंट कैमरा 2 मेगापिक्सल का है, इससे पहले की आप ज्यादा सोचे तो बता देते हैं कि यह बाकी स्मार्टफोन के 2 मेगापिक्सल कैमरे की तरह नहीं है। लेकिन हमने इसे जितना इस्तेमाल किया उसमें इसका फ्रंट कैमरा रियर कैमरे से बेहतर लगा है। फ़ोन में ब्यूटीफिकेशन मोड दिया गया है, जो आपकी सेल्फी को बेहतर बनाने के लिए है। 

ब्यूटीफिकेशन मोड के साथ

ब्यूटीफिकेशन मोड के साथ खींची गई इस तस्वीर में आपको सभी कुछ धुला हुआ लगेगा।

हार्डवेयर

यूनीहर्ट्ज़ जैली प्रो में 1.1GHz क्वाड कोर प्रोसेसर है। फोन में इसके साथ दी गई है 2जीबी रैम और 16जीबी इंटरनल स्टोरेज। इस फोन में माइक्रोएसडी कार्ड स्लॉट है। मैमोरी कार्ड की मदद से इंटरनल स्टोरेज को बढ़ाया जा सकता है। इस फोन में ज्यादा कुछ करने के लिए नहीं है, इसलिए यह परफॉरमेंस में अच्छा माना जा सकता है। फोन में आप न ही ज्यादा मीडिया,

एंटरटेनमेंट का मजा ले सकते हैं न ही कैमरा के लिए इसे इस्तेमाल कर सकते हैं। इसलिए फोन की परफॉरमेंस में भी कोई कमी नहीं आती है। यह सिंपल टास्क जैसे कॉलिंग या म्यूजिक आदि को अच्छे से पूरा करता है।

फोन में गेम खेलने की मत सोचिएगा, ऐसा यकीनन फोन की छोटी स्क्रीन और आकार के कारण है। क्योंकि इतने छोटे फोन में आप गेमिंग जैसे टास्क नहीं कर सकते हैं साथ ही फोन की इंटरनल मैमोरी इतनी ज्यादा नहीं है कि आप एक्स्ट्रा गेमिंग ऐप लोड कर सकें। हमने इस फोन में यूट्यूब का इस्तेमाल किया, जो कि एक दो बार के लिए सही भी रहा। इसमें इन्टरनेट इस्तेमाल करने में भी हमें कोई दिक्कत नहीं आई।

सॉफ्टवेयर

इस छोटे पैकेट का बड़ा धमाका होता है इस फोन के सॉफ्टवेयर से। मार्केट में आपको आज भी गिने चुने बजट स्मार्टफोन मिलेंगे जो एंड्रायड के नॉगट वर्जन पर काम करते हैं, लेकिन यहाँ आपको कंपनी सरप्राइज करती है। क्योंकि इस छोटे से जैली प्रो में है एंड्रायड 7.0 नॉगट है, जो इस फोन की एक खासियत है। हालाँकि इस पर कोई स्किन नहीं दी गई है। लेकिन बावजूद इसके यह फोन इस्तेमाल करने में स्मूथ लगता है। इसका होम स्क्रीन स्वाइपिंग, नेविगेशन आदि काफी स्मूथ है। आपको इन टास्क में कोई दिक्कत नहीं आएगी।

नोटिस करने वाली बात यह है कि जब इस फोन में आप कुछ अन्य एप्स इस्तेमाल करने लगते हैं जैसे फेसबुक, व्हाट्सऐप तो आपको थोड़ा बहुत इंतजार करना होगा। यानी कि कह सकते हैं कि इस फोन में आप हैवी या एक्स्ट्रा कुछ करना चाहें तो यह आपको शायद उतना स्मूथ परफ़ॉर्मर न लगे।

 

बैटरी पॉवर

जैली प्रो 950mAh की बैटरी पॉवर के साथ आता है। कंपनी की मानें तो यह बैटरी एक सिंगल चार्ज पर तीन दिनों तक का बैकअप देती है, लेकिन क्या वाकई? मेरा अनुभव थोड़ा अलग रहा, जो कि एक तरह से आज कल के अन्य स्मार्टफोन जैसा ही है। यह फोन एक बार फुल चार्ज करने पर पूरे दिन भर का बैकप देता है। दिन भर में आपको इस फोन की बैटरी को लेकर परेशानी नहीं होगी। जैसा कि मैने पहले भी कहा कि फोन में करने के लिए ज्यादा कुछ खास नहीं है। तो जाहिर है फोन की बैटरी भी अधिक खर्च नहीं होती है, लेकिन कंपनी ने जितना कहा मुझे उतना बैकप इसमें नहीं दिखा।
इन दिनों आने वाले अन्य स्मार्टफोन को अगर आप देखें तो वो भी एक दिन का चार्ज देते हैं।

फोन में टाइपिंग है मुश्किल

बेहतर है कि आप इस फोन में वॉयस सर्च करें और गूगल असिस्टेंट की मदद लें। क्योंकि फोन में टाइपिंग एक बड़ा टास्क है। जब आप फोन में टाइपिंग करेंगे तो आधी स्क्रीन में तो केवल कीबोर्ड नजर आता है। साथ ही टाइपिंग करते हुए आप कई बार गड़बड़ कर जाते हैं, इसलिए सुझाव है कि इस फोन में टाइपिंग के दौरान आप ऑटो करेक्ट जरुर इस्तेमाल करें। हालांकि इस फोन का टच ठीक ठाक काम करता है। जबकि फोटो क्लिक करते हुए आपको थोड़ी परेशानी हो सकती है।

वहीं यदि आप सोच रहे हैं कि आप म्यूजिक का शौक रखते हैं और इस फोन को एक छोटे एमपी3 डिवाइस की तरह इस्तेमाल कर सकते हैं तो बता दें कि इस फोन की साउंड क्वालिटी भी कुछ खास नहीं करती।

कीमत

यूनीहर्ट्ज़ का यह स्मार्टफोन जैली दो वैरिएंट में आता है जिसमें 1 जीबी रैम और दो जीबी रैम शामिल हैं। 1 जीबी रैम को जहाँ जैली नाम दिया है वहीं 2 जीबी रैम को जैली प्रो कहा गया है।

Indigogo पर जैली (एक जीबी) रैम फोन की कीमत 79 डॉलर यानी लगभग 5,100 रूपये के करीब है वहीं 2जीबी रैम वैरिएंट जैली प्रो की कीमत 95 डॉलर यानी कि लगभग 6,120 रुपए के करीब है।

 

 

ये है मेरी राय

अब भारतीय मार्केट के हिसाब से देखें तो इतनी कीमत में आपको एक अच्छा खासा फोन मिल सकता है।

फोन का आकर्षण जहां इसका छोटा आकार है जो कि इसे हैंडी बनाता है, वहीं अगर यूज के लिहाज से देखें तो कई बार यही इसके लिए नेगटिव काम भी करता है। क्योंकि छोटे डिस्प्ले में न ही मैं फोन के 4जी होने का फायदा सही से फायदा ले पाई और न ही इसे एक सेकेंडरी डिवाइस की तरह ही इस्तेमाल कर पाई। लेकिन हां अगर मुझे एक क्यूट, छोटा, पोर्टेबल डिवाइस चाहिए तो यह शायद एकदम सही है, कम से दिखाने के लिए तो अच्छा ही है।

अब यह यूज़र और उनकी डिमांड पर निर्भर करता है कि वो इसे कैसे इस्तेमाल करना चाहते हैं। आखिर शौक बड़ी...नहीं छोटा 'जैली प्रो' ही है।


लेटेस्ट टेक अपडेट पाने के लिए लाइक करें हिन्‍दी गिज़बोट फेसबुक पेज

 



English summary
Unihertz Jelly Pro review : A tiny toy smartphone in your pocket. Here is our full review of this phone, all in Hindi.
Please Wait while comments are loading...
भाजपा से हाथ मिलाने के बाद नीतीश को सताने लगा यह डर
भाजपा से हाथ मिलाने के बाद नीतीश को सताने लगा यह डर
अगर की ये गलती, तो jio phone के सिक्योरिटी वाले 1500 रुपए 3 साल बाद भी नहीं मिलेंगे वापस
अगर की ये गलती, तो jio phone के सिक्योरिटी वाले 1500 रुपए 3 साल बाद भी नहीं मिलेंगे वापस
Opinion Poll

Social Counting