क्‍या आप भी अपना मोबाइल सर्विस प्रोवाइडर बदलना चाहते हैं ?

Posted By:

मोबाइल नंबर प्रोर्टेबिलिटी (एमएनपी) के तहत जुलाई, 2013 के अंत तक लगभग 9.782 करोड़ उपभोक्ताओं ने विभिन्न सेवा प्रदाताओं से अपना मोबाइल नंबर बदलने का अनुरोध किया। यह जानकारी संचार और सूचना प्रौद्योगिकी मंत्रालय द्वारा मंगलवार को जारी आंकड़ों से मिली।

पढ़ें: क्‍या ये असली के हाईब्रिड जानवर हैं ?

दूर-संचार नियमन प्राधिकरण (ट्राई) द्वारा 31 जुलाई, 2013 तक जारी आकंड़ों के अनुसार एमएनपी जोन-1 (उत्तर और पश्चिम भारत) में सबसे अधिक राजस्थान से (95.8 लाख) लोगों ने नंबर बदलने का अनुरोध किया। इसके बाद गुजरात से (83.3 लाख ) लोगों ने नंबर बदलने का अनुरोध किया।

पढ़ें: अपने कंप्‍यूटर को जरा सावधानी से साफ करें

एमएनपी जोन-2 (दक्षिणी और पूर्वी भारत) में सबसे अधिक कर्नाटक से (1.145 करोड़) लोगों ने आवेदन किया है। इसके बाद आन्ध्र प्रदेश में (89 लाख) लोगों ने नंबर बदलने का अनुरोध किया। जुलाई, 2013 महीने में मोबाइल नंबर बदलने के लिए आवेदन करने वाले उपभोक्ताओं की कुल संख्या 22.3 लाख रही।

पढ़ें: ई-मेल हैक हो जाए तो क्‍या करें?

क्‍या आप भी अपना मोबाइल सर्विस प्रोवाइडर बदलना चाहते हैं ?

कैस बदलें अपना सर्विस प्रोवाइडर

स्‍टेप 1 सबसे पहले अपने मोबाइल फोन से 1900 पर पोर्ट स्‍पेस और अपना मोबाइल नंबर लिखकर मैसेज करें उदाहरण PORT <आपका फोन नंबर> 1900 पर भेजें। मैसेज करने के बाद आपके मोबाइल में एक यूनीक पोर्टींग कोड आएगा

स्‍टेप 2 अब आप अपने नजदीकी मोबाइल शॉप में जाकर शॉपकीपर से पोर्टेबिल्‍टी सिम मांगे। दूकानदार आपको एक फार्म भरने के लिए देगा जिसमें आपको अपने वोटर आईडी की फोटो कॉपी और एक फोटो भी अटैच करनी होगी। वोटर आईडी की जगह आप चाहें तो कोई दूसरा आईडी प्रूफ भी लगा सकते हैं।

स्‍टेप3 फार्म भरने के बाद दुकानदार आपको एक सिम देगा, जिसके लिए 19 रुपए का चार्ज आपको देना होगा। 7 दिनों के अंदर आपको दूसरा सिम एक्‍टीवेट हो जाएगा, लेकिन नंबर वही रहेगा। जैसे आपका नया सिम एक्‍टीवेट होगा। वैसे ही पुराने वाले मोबाइल में लगा सिम डीएक्‍टीवेट हो जाएगा। यानी उसमें सिग्‍नल आने बंद हो जाएगें।

Please Wait while comments are loading...
कौशांबी में जलती चिता से पुलिस ने उठवाई लाश, जानिए वजह...
कौशांबी में जलती चिता से पुलिस ने उठवाई लाश, जानिए वजह...
गोरखपुर हादसे में डीएम ने सौंपी जांच रिपोर्ट, हुए चौंकाने वाले खुलासे
गोरखपुर हादसे में डीएम ने सौंपी जांच रिपोर्ट, हुए चौंकाने वाले खुलासे
Opinion Poll

Social Counting