LIVE: 2G घोटाले में थोड़ी देर में होने वाला है फैसला

By Deepa

    बस कुछ ही देर में टू-जी स्पेक्ट्रम घोटाले का फैसला आने वाला है, पूर्व दूरसंचार मंत्री ए राजा और द्रमुक सांसद कनिमोझी दिल्ली स्थित पटियाला कोर्ट आ चुके हैं। हम आपको बता दें कि विशेष अदालत 2जी स्पेक्ट्रम आवंटन घोटाला मामले में पूर्व दूरसंचार मंत्री ए राजा, द्रमुक सांसद कनिमोझी और कई अन्य के भाग्य का फैसला कर सकती है। टू-जी स्पेक्ट्रम घोटाले में सुनवाई छह साल पहले 2011 में शुरू हुई थी जब अदालत ने 17 आरोपियों के खिलाफ आरोप तय किये थे। जिन आरोपों में आरोप तय किये गये हैं उनमें छह महीने से उम्रकैद तक की सजा का प्रावधान है।

    LIVE: 2G घोटाले में थोड़ी देर में होने वाला है फैसला

    गुरुवार को जिन मामलों में फैसला आना है, उनमें से एक में एस्सार समूह के प्रमोटर रविकांत रुइया और अंशुमान रुइया, लूप टेलीकाम की प्रमोटर किरन खेतान, उनके पति आई पी खेतान और एस्सार समूह के निदेशक (रणनीति एवं योजना) विकास सर्राफ आरोपी हैं।

    पढ़ें: फेसबुक बताएगा, कौन-कहां कर रहा है आपकी फोटो इस्तेमाल

    विशेष सीबीआई न्यायाधीश ओ. पी. सैनी यूपीए सरकार के समय हुए टू-जी घोटाले में सीबीआई और ईडी द्वारा दर्ज अलग अलग मामलों में फैसले सुना सकते हैं। टू-जी स्पेक्ट्रम घोटाले से जुड़े मामलों पर विशेष रूप से विचार कर रही अदालत ने राजा, कनिमोझी और अन्य सहित सभी आरोपियों को फैसले के लिए गुरुवार उसके सामने हाजिर रहने का निर्देश दिया।

    सीबीआई द्वारा दायर पहले मामले में राजा और कनिमोझी के अलावा पूर्व दूरसंचार सचिव सिद्धार्थ बेहुरा, राजा के पूर्व निजी सचिव आर के चंदोलिया, स्वान टेलीकॉम प्रमोटर शाहिद उस्मान बलवा और विनोद गोयनका, यूनीटेक लिमिटेड एमडी संजय चंद्रा और रियालंस अनिल धीरूभाई अंबानी समूह के तीन शीर्ष कार्यकारी अधिकारी गौतम दोशी, सुरेंद्र पिपारा और हरि नायर आरोपी हैं।

    Read more about:
    English summary
    The loss in the 2G spectrum scam was Rs 30,000 crore as per the findings of the CBI. The CAG had initially pegged the loss at Rs 1.76 lakh crore and the government of the day was stating a zero loss figure in a bid to counter the CAG.
    भारत का अब तक का सबसे बड़ा राजनीतिक पोल. क्या आपने भाग लिया?
    Opinion Poll

    पाइए टेक्नालॉजी की दुनिया से जुड़े ताजा अपडेट - Hindi Gizbot

    X
    We use cookies to ensure that we give you the best experience on our website. This includes cookies from third party social media websites and ad networks. Such third party cookies may track your use on Gizbot sites for better rendering. Our partners use cookies to ensure we show you advertising that is relevant to you. If you continue without changing your settings, we'll assume that you are happy to receive all cookies on Gizbot website. However, you can change your cookie settings at any time. Learn more