सुनाई कम पड़ता है तो डाउनलोड कीजिए ये मोबाइल एप

Written By:

बाजार में वेब आधारित एक नया एप आया है, जिसका दावा है कि इसकी मदद से सुनने की समस्या से निजात पाई जा सकती है। 'टिन्रिटैक्स' नाम के इस एप्प से टिनिटस बीमारी का इलाज करने का दावा किया जा रहा है। कान में लगातार सीटी या घंटी बजने की समस्या को टिनिटस कहा जाता है।

पढ़ें: वाट्स एप पर लड़की के साथ मारपीट का वीडियो हुआ वॉयरल

मुख्य रूप से उम्र के बढ़ने के साथ-साथ सुनने की क्षमता कम होती जाती है। यह समस्या लंबे समय तक तेज शोरगुल में रहने की वजह से होती है। वेब पत्रिका 'एनगैजेट' के मुताबिक, टिनीट्रैक्स एप्प से फिल्टर श्रव्य थेरेपी के जरिए सुनने की समस्या का इलाज किया जा सकता है।

सुनाई कम पड़ता है तो डाउनलोड कीजिए ये मोबाइल एप

जर्मनी की कंपनी 'सोनोर्मड' ने इस एप्प को तैयार किया है। यह एप्प लोगों के श्रव्य सैंपल का विश्लेषण कर उसकी फ्रीक्वेंसी को फिल्टर करता है। मुख्य रूप से यह एप्प तीन चरणों में काम करता है। पहले चरण में व्यक्तिगत संग्रह में से म्यूजिक फाइल का चुनाव करता है। उस फाइल में टिनिटस की फ्रीक्वेंसी का माप करता है और उसके

बाद एमपी3 प्लेयर में थेरेपी शुरू करने के लिए एक व्यक्तिगत ट्रैक को अपलोड करता है। इस बीमारी से अमेरिका के 5 लाख लोग पीड़ित हैं। यकीनन इस नए एप्प से टिनिटन के लक्षणों को पहचान कर उसका इलाज किया जा सकेगा।

Please Wait while comments are loading...
नासा ने गूगल की मदद से खोजा हमारे जैसा आठ ग्रहों का सौरमंडल
नासा ने गूगल की मदद से खोजा हमारे जैसा आठ ग्रहों का सौरमंडल
बेटी के बैग में इस्तेमाल हुए तीन कंडोम देख मां ने कर दिया रेप केस, कोर्ट ने दिया यह फैसला
बेटी के बैग में इस्तेमाल हुए तीन कंडोम देख मां ने कर दिया रेप केस, कोर्ट ने दिया यह फैसला
Opinion Poll

Social Counting

पाइए टेक्नालॉजी की दुनिया से जुड़े ताजा अपडेट - Hindi Gizbot