एप आधारित उबर, ओला कैब को एक और बड़ा झटका

Posted By:

    दिल्‍ली में मोबाइल एप से टेक्‍सी सर्विस प्रोवाइड करने वाली उबर, ओला और टैक्‍सी फॉर श्‍योर को एक और बड़ा झटका लगा है। दिल्ली के परिवहन मंत्री गोपाल राय ने बुधवार को कड़ी चेतावनी देते हुए कहा कि एप आधारित टैक्सी ऑपरेटर उबर और ओला कैब जब तक उन पर फिलहाल लगे प्रतिबंध का पालन नहीं करती हैं, सरकार लाइसेंस के लिए उनके आवेदनों पर विचार नहीं करेगी।

    पढें: एंड्रायड के कुछ सीक्रेट कोड, जरा ट्राइ करके देखिए

    एप आधारित उबर, ओला कैब को एक और बड़ा झटका

    आप सरकार ने इन दो टैक्सी कंपनियों के एप बंद करने और पाबंदी आदेश का पालन नहीं करने के लिए उनके खिलाफ कड़ी कार्रवाई के लिए केन्द्र को फिर से पत्र लिखने का फैसला किया। सरकार ने 28 मई को उबर और ओला कैब को निर्देश दिया था कि अगर वे शहर में अपनी सेवाओं का 'नियमन' चाहते हैं तो वे अपने चालकों तथा वाहनों की जानकारी जमा करें। लेकिन मंत्री के अनुसार, वे अब तक नहीं आए हैं।

    पढ़ें: एंड्रायड के कुछ सीक्रेट कोड, जरा ट्राइ करके देखिए

    एप आधारित उबर, ओला कैब को एक और बड़ा झटका

    राय ने यहां कहा, 'उबर और ओला कैब जब तक शहर की सरकार द्वारा उन पर लगाए वर्तमान प्रतिबंध का पालन नहीं करते हैं, हम राजधानी में टैक्सी संचालन के लिए उबर और ओला कैब को लाइसेंस जारी नहीं करेंगे।'

    पढें: कैसे वापस लाएं डिलीट वाट्स एप मैसेज ?

    उनसे इस संबंध में पहले एक शपथपत्र देने के लिए कहा गया लेकिन वे टाल रहे हैं। हमारा रुख साफ है कि अगर उबर और ओला कैब चाहते हैं कि सरकार द्वारा उनके लाइसेंस के आवेदन पर विचार किया जाए तो दोनों को पाबंदी आदेश का पालन करना होगा।'

    एप आधारित उबर, ओला कैब को एक और बड़ा झटका

    दिसंबर में उबर के एक चालक द्वारा एक महिला यात्री का कथित रूप से बलात्कार करने के बाद से राष्ट्रीय राजधानी में सभी एप आधारित कैब सेवाओं पर पाबंदी है। इस बीच, अपने एक चालक द्वारा यौन शोषण के नए आरोप झेल रही एप आधारित टैक्सी सेवा प्रदाता उबर ने कहा कि घटना के बारे में गुड़गांव पुलिस को अलर्ट करने के लिए उसने सक्रियता से कदम उठाए।

    पढें: कैसे छिपाएं अपने ब्‍वॉयफ्रेंड के वाट्स एप मैसेज

    अमेरिका आधारित उबर के लिए भारत में उसके एक चालक द्वारा यौन शोषण का यह दूसरा आरोप है। आरोपी चालक को गुड़गांव पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। कंपनी ने कहा कि इस घटना में शामिल चालक का पहले किसी तरह के अनुचित व्यवहार का रिकार्ड नहीं रहा है।

    English summary
    In a major decision, Delhi government on Wednesday rejected fresh applications for licence by US-based taxi booking firm Uber and two other such service providers - Ola and TaxiForSure.
    Opinion Poll

    पाइए टेक्नालॉजी की दुनिया से जुड़े ताजा अपडेट - Hindi Gizbot

    X
    We use cookies to ensure that we give you the best experience on our website. This includes cookies from third party social media websites and ad networks. Such third party cookies may track your use on Gizbot sites for better rendering. Our partners use cookies to ensure we show you advertising that is relevant to you. If you continue without changing your settings, we'll assume that you are happy to receive all cookies on Gizbot website. However, you can change your cookie settings at any time. Learn more