ये ट्रिक अपनाए कोई नहीं पढ़ पाएगा आपके पर्सनल मैसेज

Posted By:

वाट्स एप में प्राइवेट मैसेज को छुपा कर रखना ऐसे में काफी मुश्‍किल हो जाता है जब फोन आपके दोस्‍तों या फिर रिश्‍तेदारों के पास हो कितना भी मना कीजिए सबसे पहले उनकी नजर वाट्स एप के मैसेजों पर ही जाएगी।

पढ़ें: वाट्स एप में कैसे बदलें अपना फोन नंबर

जैसे आप अपने फोन को लॉक करने के लिए कोड डालते हैं अगर वैसे ही वाट्स एप को ओपेन करने में भी पासवर्ड लग जाए तो कितना अच्‍छा हो। इसके लिए भले ही वाट्स में कोई फीचर न दिया गया हो लेकिन Messenger and Chat Lock नाम की एप्‍लीकेशन फ्री अपने फोन में इंस्‍टॉल करके आप वाट्स एप के अलावा कई दूसरी एप्‍लीकेशनों में भी पासवर्ड लॉक लगा सकते हैं। ये एप एंड्रायड और ब्‍लैकबेरी स्‍मार्टफोन में फ्री डाउनलोड की जा सकती है।

पढ़ें: वाट्स एप में कैसे करें फ्री वॉयस कॉल

एंड्रायड में कैसे यूज़ करें Messenger and Chat Lock एप

लेटेस्ट टेक अपडेट पाने के लिए लाइक करें हिन्‍दी गिज़बोट फेसबुक पेज

1

सबसे पहले अगर आप एंड्रायड स्‍मार्टफोन का यूज़ कर रहे हैं तो फोन में गूगल प्‍ले स्‍टोर ओपेन करें और सर्च बॉक्‍स में जाकर Messenger and Chat Lock एप सर्च करें।

2

एप ओपेन करने के बाद इंस्‍टॉल बटन पर क्‍लिक करें। इससे पहले फोन में इंटरनेट ऑन करना मत भूलें

3

अब अपने फोन में ऐप को ओपेन करें उसकी सेटिंग में जाकर जिस एप्‍लीकेशन में लॉक सेट करना है सेट करें।

4

इसके अलावा एप में आप ये भी सेट कर सकते हैं कि कौन सी एप्‍लीकेशन अनइंस्‍स्‍टॉल करने की इजाजत किसी दूसरे को दी जाए या न दी जाए।

5

एप्‍लीकेशन में सारी सेटिंग करने के बाद आप जब भी वाट्स एप या फिर कोई दूसरी मैसेंजर एप ओपेन करके उसमें पहले आपके द्वारा सेट किया गया पिन पूंछेगा।


लेटेस्ट टेक अपडेट पाने के लिए लाइक करें हिन्‍दी गिज़बोट फेसबुक पेज

English summary
Everyone, at some point or another, has probably had to deal with friends or family taking a sneak peek at their WhatsApp messages.
Please Wait while comments are loading...
दिवाली पर युसुफ पठान ने जवानों को खिलाई मिठाई, लोगों ने की तारीफ
दिवाली पर युसुफ पठान ने जवानों को खिलाई मिठाई, लोगों ने की तारीफ
Video: 78 ओवर में 4 रन भी नहीं बना पाई पाकिस्तानी टीम, खड़ा हुआ नया विवाद
Video: 78 ओवर में 4 रन भी नहीं बना पाई पाकिस्तानी टीम, खड़ा हुआ नया विवाद
Opinion Poll

Social Counting