फेसबुक में ऐसे पता कर सकेंगे फेक आईडी

Posted By:

दुनिया का सर्वाधिक इस्तेमाल किया जाने वाला सोशल नेटवर्किंग साइट भले दुनिया के किसी भी हिस्से से बड़ी संख्या में मित्र बनाने की सुविधा प्रदान करता है, और अपने मित्रों के साथ-साथ अनजान व्यक्तियों से भी संपर्क का स्रोत बन चुका है, लेकिन इस पर फर्जी पहचान वाले लोगों की संख्या भी कम नहीं है।

पढ़ें: नन्‍हा सा प्रोजेक्‍टर जो आपको देगा बड़ी स्‍क्रीन का मज़ा

ऐसे लोग हमेशा से हमारे लिए अवांछित व्यक्ति ही रहते हैं। लेकिन फेसबुक पर अब आप फर्जी संपर्को की जांच, विश्लेषण और उन्हें ब्लॉक कर सकते हैं। यह एक एप्लिकेशन से संभव है। इस एप्लिकेशन के इस्तेमाल के लिए कोई शुल्क नहीं देना होगा। इस एप्लिकेशन को इजराइल के एलिरन सहचर ने डिजाइन किया है।

फेसबुक में ऐसे पता कर सकेंगे फेक आईडी

एलिरन ने कहा है कि भारतीय उपयोगकर्ताओं के लिए इस एप्लिकेशन का इस्तेमाल अगले साल तक के लिए मुफ्त कर दिया गया है। उन्होंने कहा कि भारत में हाल ही में इंटरनेट के जरिए प्रताड़ना देने के काफी मामले सामने आए हैं। युवकों एवं युवतियों के परिजनों के लिए भी यह सबसे चिंता का विषय है। इस एेप से माता-पिता अपने बच्चों को फर्जी प्रोफाइल से बचा सकते हैं और इंटरनेट पर अवांछित यूजर को ब्लॉक करके सेफ ब्राउजिंग कर सकते हैं।

पढ़ें: मार्क जुकरबर्ग के 7 राज जो किसी को नहीं पता

फेसबुक में ऐसे पता कर सकेंगे फेक आईडी

बढ़ते साइबर अपराध को ध्यान में रखते हुए इस एप्लिकेशन को डिजाइन करने वाले एलिरन का कहना है कि यह एप्लिकेशन आपकी मित्र सूची के सभी मित्रों का तकनीकी रूप से टेस्ट रन करता है, जिसमें चुनी हुई प्रोफाइलों का 365 दिन का ट्रैक आपके सामने एक से 10 के बीच के स्कोर के रूप में दिखाता है। जिससे आप ये जान पाएंगे कि किसी प्रोफाइल पेज या ग्रुप का इस्तेमाल करने वाला उपयोगकर्ता वास्तविक है या फर्जी।

यह आपके उन सभी उपयोगकर्ताओं को हटाने में मददगार साबित होगी जो आपको बेवजह पिंग करते रहते हैं या आपके प्रोफाइल से फोटो या वीडियो कॉपी करके उसका गलत इस्तेमाल करते हैं। इस एप्प से कहीं से कॉपी की हुई फोटो के बारे में भी जानकारी मिल जाती है।

पढ़ें: फोटोशॉप में बनाई गईं बॉलिवुड फनी फोटो

फेसबुक में ऐसे पता कर सकेंगे फेक आईडी

इस एप्लिकेशन को भारतीय उपभोक्ताओं के लिए अगले एक साल तक के लिए नि:शुल्क रखा गया है। फेक ऑफ एप्लिकेशन सोशल मीडिया पर ज्यादा समय व्यतीत करने वाले उपयोगकर्ता को ध्यान में रखते हुए सुरक्षा प्रदान करने कि लिए बनाया गया है।

फेक ऑफ के संस्थापक एलिरन सहचर 34 वर्ष के हैं। वह खुद 11 वर्षो से इंटरनेट के क्षेत्र में अग्रणी कार्य कर रहे हैं। वह खुद फेक प्रोफाइल्स से परेशान थे, इसलिए उन्होंने इस एप्लीकेशन को डिजाइन किया।

Please Wait while comments are loading...
बेटी के बैग में इस्तेमाल हुए तीन कंडोम देख मां ने कर दिया रेप केस, कोर्ट ने दिया यह फैसला
बेटी के बैग में इस्तेमाल हुए तीन कंडोम देख मां ने कर दिया रेप केस, कोर्ट ने दिया यह फैसला
मेट्रो में सफर करना हुआ सरक्षित, मुंबई मेट्रो रेल ने उठाए ये अहम कदम
मेट्रो में सफर करना हुआ सरक्षित, मुंबई मेट्रो रेल ने उठाए ये अहम कदम
Opinion Poll

Social Counting

पाइए टेक्नालॉजी की दुनिया से जुड़े ताजा अपडेट - Hindi Gizbot