बाढ़ में फंसे लोगों को ढूड़ेंगी ये गूगल ऐप

Posted By:

    जम्मू-कश्मीर में आई भीषण बाढ़ में तकनीक की मदद से खोए हुए लोगों को ढूड़ा जा रहा है। इसके लिए राज्‍य सरकार उत्‍तराखंड बाढ़ के दौरान प्रयोग की गई गूगल ऐप प्रयोग कर रही है इससे बाढ़ प्रभावित जम्मू-कश्मीर में बचाव दलों के खोज अभियान को काफी मदद मिलेगी।

    पढ़ें: क्‍या कहेंगे आप इन 10 खौफनाक तस्‍वीरें को गूगल पर देखकर ?

    ‘पर्सन फाइंडर' नाम का यह गूगल एप्प विशिष्ट रूप से बनाया गया एक खास एप्प है जिससे लोगों को किसी आपदा से प्रभावित हुए अपने परिजनों या दोस्तों के लिए पोस्ट करने और उनकी स्थिति का पता लगाने में मदद मिलती है। राष्ट्रीय आपदा मोचन बल (एनडीआरएफ) के महानिदेशक ओपी सिंह ने कहा कि वह गूगल के अधिकारियों से बात कर रहे हैं और प्रणाली के आज से काम शुरू करने की उम्मीद है।

    पढ़े: कहीं आप भी तो नहीं ढूंड़ रहे सबसे बड़ा स्‍मार्टफोन ? तो ये रहा जवाब

    घटनाक्रम की जानकारी रखने वाले सूत्रों ने कहा कि गूगल ने सरकार को बताया कि उसके ‘ओपन सोर्स' कंटेंट में जम्मू-कश्मीर विशेषकर कश्मीर घाटी की जगहों और निवासियों से जुड़े बहुत सारे आंकड़े और सूचनाएं हैं। सूत्रों ने कहा कि राहत एवं बचाव दलों को अपने काम में काफी मुश्किलों का सामना करना पड़ रहा है जिनमें खराब संचार नेटवर्क और पानी का ऊंचा स्तर जैसी मुश्किलें शामिल हैं और इस उपग्रह आधारित एप्प से उन्हें ज्यादा से ज्यादा प्रभावितों तक पहुंचने के प्रयासों में मदद मिलेगी।

    बाढ़ में फंसे लोगों को ढूड़ेंगी ये गूगल ऐप

    एक बार अपडेट और एक्टिवेट किए जाने के बाद खोज एवं बचाव दल ‘पर्सन फाइंडर' का इस्तेमाल किसी इलाके में रहने वाले लोगों के ठिकानों का पता करने और संकटग्रस्त जगहों से उन्हें बाहर निकालने के लिए लोग तैनात करने में कर सकते हैं।

    इसके अलावा इस ऐप का प्रयोग एसएमएस द्वारा भी किया जा सकता है। इसके लिए Text "search " लिखकर 9773300000 पर एसएमएस करना होगा। ऐप को हिन्‍दी, उर्दू और अंग्रेजी में प्रयोग किया जा सकता है।

    English summary
    Seeking to boost search and surveillance capabilities of rescue teams in flood hit Jammu and Kashmir, a successful Uttarakhand ‘Google’ application is being pressed into service by the government.
    Opinion Poll

    पाइए टेक्नालॉजी की दुनिया से जुड़े ताजा अपडेट - Hindi Gizbot

    X
    We use cookies to ensure that we give you the best experience on our website. This includes cookies from third party social media websites and ad networks. Such third party cookies may track your use on Gizbot sites for better rendering. Our partners use cookies to ensure we show you advertising that is relevant to you. If you continue without changing your settings, we'll assume that you are happy to receive all cookies on Gizbot website. However, you can change your cookie settings at any time. Learn more