फेसबुक में मस्‍त है केरला जेल के कैदी

Written By:

दुनियां की किसी भी जेल में फेसबुक का प्रयोग करना मना है लेकिन केरल की कोझिकोड जेल में बंद तीन कैदियों को फेसबुक पर फोटोग्राफ्स पोस्ट करते पाया गया। तीनों पर मार्क्‍सवादी कम्युनिस्ट पार्टी (माकपा) के पूर्व नेता टी. पी. चंद्रशेखरन की पिछले साल बर्बरतापूर्वक हत्या करने का मामला चल रहा है। राज्य के समाचार चैनलों ने इन फोटोग्राफ्स पर बहस छेड़ दी है कि क्या कैदियों को ऐसा करने की इजाजत है।

पढ़ें: कोबरा पोस्‍ट के स्‍टिंग ऑपरेशन ने आईटी कंपनियों की खोली पोल

फेसबुक पर पोस्ट किए गए फोटोग्राफ्स में कोडी सुन्नी, किरमानी मनोज और मोहम्मद शफी हाफ पैंट और चश्मे पहने हुए जेल परिसर में अन्य 33 हत्या के आरोपी कैदियों के साथ दिखाई दे रहे हैं। राज्य के गृह मंत्री तिरुवनचूर राधाकृष्णन ने पत्रकारों से कहा, पुलिस महानिदेशक इस मामले की पड़ताल कर रहे हैं, तथा ड्यूटी से अनुपस्थित पाए गए कर्मचारियों के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी। इसे किसी भी तरह स्वीकार नहीं किया जाएगा।

पढ़ें: फोटोग्राफी लर्वस के लिए क्रिऐटिव गैजेट

फेसबुक में मस्‍त है केरला जेल के कैदी

photo source- Mashable 

मामले की पड़ताल के लिए मैं स्वयं कल (मंगलवार) जेल का दौरा करूंगा। माकपा ने 2008 में चंद्रशेखरन को पार्टी से निष्कासित कर दिया था। इसके बाद चंद्रशेखरन ने 'रीवोल्यूशनरी मार्क्‍सिस्ट पार्टी' का गठन किया था। 51 वर्षीय चंद्रशेखरन की चार मई, 2012 को घर लौटते समय कोझिकोड के ऊंचियम में हत्या कर दी गई थी। हथियारबंद अपराधियों के समूह ने उन पर 51 बार वार किए।

चंद्रशेखरन की हत्या के आरोप में इस समय कोझिकोड जेल में 36 आरोपी बंद हैं। कोझिकोड जेल के अधिकारियों ने बताया कि फोटोग्राफ्स के साथ इसकी खबर प्रकाशित होने के बाद उन्होंने पूरे जेल परिसर की खोजबीन की, लेकिन उन्हें कहीं कुछ भी नहीं मिला।

Please Wait while comments are loading...
15 साल के लड़के का विधवा भाभी से कराया विवाह, दो दिन बाद की आत्महत्या
15 साल के लड़के का विधवा भाभी से कराया विवाह, दो दिन बाद की आत्महत्या
गुजरात चुनाव में वोट डालने पहुंच रहे, बुजुर्ग, बच्चे और दिव्यांग, तस्वीरें
गुजरात चुनाव में वोट डालने पहुंच रहे, बुजुर्ग, बच्चे और दिव्यांग, तस्वीरें
Opinion Poll

Social Counting

पाइए टेक्नालॉजी की दुनिया से जुड़े ताजा अपडेट - Hindi Gizbot