अब विज्ञापनों में होगी खाने की सुगंध

Posted By: Rahul

जब भी आप कोई स्वादिष्ट पकवान या अपने मनपसंद चॉकलेट, पेस्ट्री या धुआं उठते हुए गर्मागरम पिज्जा का विज्ञापन देखते हैं, तो क्या होता है? जी हां, आप उन लुभावने पकवानों की सुगंध महसूस करने लगते हैं और मुंह में पानी भर आता है।

पढ़ें: द‍ेखिए ऑस्‍कर में खींची गई इस तस्‍वीर को जिसने ट्विटर को किया क्रेश

असल में तो सुगंध के साथ साथ मुंह में पकवान का स्वाद तक आने लगता है। भारतीय मूल की प्रोफेसर आराधना कृष्णा ने उपभोक्ताओं से विज्ञापन में दिखने वाले पकवान की खुशबू की कल्पना करने को कहा और पाया कि पकवानों के चित्र आंखों के सामने आने से दिमागी प्रतिक्रिया सक्रिय हो उठती है। कृष्णा का शोध इस महत्वपूर्ण प्रभाव का प्रमाण है कि बढ़ते खाद्य विज्ञापन उद्योग के लिए यह फायदेमंद बात है और इससे उनके पकवान की खपत ज्यादा होगी।

पढ़ें: 15,000 रुपए से लेकर 20,000 रुपए के बीच ये हैं बेस्‍ट एंड्रायड स्‍मार्टफोन

अब विज्ञापनों में होगी खाने की सुगंध

पढ़ें: बिल गेट्स की बेटी के हाथ में ये कौन सा फोन है ?

अमेरिका के यूनिवर्सिटी ऑफ मिशिगन में संवेदी विपणन विशेषज्ञ कृष्णा ने कहा, "अभी तक खुशबुओं का उपयोग निजी स्वच्छता वाली सामग्रियों जैसे परफ्यूम और डियोड्रंट में होता आया है, लेकिन खाद्य बाजार खुशबुओं की उपयोगिता को अभी समझ नहीं पाया है और इसके फायदे से वंचित है।
खाद्य बाजार कृत्रिम खुशबुओं का प्रयोग अपने विज्ञापनों में कर सकते हैं।

पत्रिका 'कंज्यूमर रिसर्च' में प्रकाशित अध्ययन में कहा गया है कि पकवानों की खपत और खरीद को बढ़ाने की दृष्टि से विज्ञापनों में स्वादिष्ट पकवान की तस्वीर शामिल करना अनिवार्य कारक है।

Please Wait while comments are loading...
मैदान पर लौटते ही बांग्लादेश पर टूटा डिविलियर्स का कहर, 'दोहरा शतक' लगाकर बनाए कई रिकॉर्ड
मैदान पर लौटते ही बांग्लादेश पर टूटा डिविलियर्स का कहर, 'दोहरा शतक' लगाकर बनाए कई रिकॉर्ड
प्रकाश राज के बाद एक और बड़े अभिनेता ने पीएम मोदी पर बोला हमला, कहा- नोटबंदी की गलती करें स्वीकार
प्रकाश राज के बाद एक और बड़े अभिनेता ने पीएम मोदी पर बोला हमला, कहा- नोटबंदी की गलती करें स्वीकार
Opinion Poll

Social Counting