जानिए, ऑफलाइन वीडियो एडीटिंग के बेस्‍ट सॉफ्टवेयर

By Deeksha Mishra
|

ऑफलाइन एडटिंग को प्रॉक्सी एडटिंग के रूप में भी जाना जाता है। यह एक ऐसी तकनीक है जिसे अक्सर बड़ी फाइलों को मैनेज करने के लिये वीडियो एडटिंग में उपयोग किया जाता है। ऑफलाइन वीडियो एडटिंग में, आप अपनी हाई क्वालिटी वाले रॉ फुटेज से उसे लो क्वालिटी वाली कॉपियों में बना सकते हैं।

बाद में, आप एडटिंग प्रक्रिया में लो क्वालिटी वाले प्रॉक्सी फाइलों का उपयोग करते हैं, और एडटिंग करने के बाद, आप फिर से प्रॉक्सी फाइलों को उनकी संबंधित रॉ फाइल्स के साथ रिप्लेस करते हैं। ऑफलाइन वीडियो एडटिंग आपके लिये एक गेम चेंजर साबित हो सकता है, खासकर यदि आपके पास पुराना कंप्यूटर है, जो पूरी तरह से छोटे टास्कों और ब्राउजिंग के लिये डिजाइन किया गया है।

जानिए, ऑफलाइन वीडियो एडीटिंग के बेस्‍ट सॉफ्टवेयर

 

ऑफलाइन वीडियो एडटिंग के फायदे क्या हैं?

ऑफलाइन वीडियो एडटिंग करने का पहला और सबसे बड़ा फायदा यह है कि यह आपके वीडियो परफॉर्मेंस को बूस्ट कर देगा। क्योंकि प्रॉक्सी फाइलें छोटे साइज की हैं और इसलिये इन फाइलों में एडटिंग बहुत आसान हो जाती है। यदि आपके पास एक कम्प्यूटर है जिसमें कम स्पेस है, तो ये प्रॉक्सी फाइलें बहुत उपयोगी हो जाती हैं। और छोटी प्रॉक्सी फाइलों पर काम करने से आपके लैपटॉप की बैटरी की खपत कम होगी, और आपके लैपटॉप की बैटरी अधिक समय तक चलेगी।

जानें हमारी जिंदगी को स्मार्टफोन कैमरा कैसे बनाते हैं स्मार्ट

ऑफलाइन वीडियो ए़डटिंग से होने वाली परेशानियां क्या हैं?

ऑफलाइन वीडियो एडटिंग की ट्रांसकोडिंग प्रक्रिया में समय बहुत बर्बाद होता है। इसलिये एडटिंग शुरू करने से पहले, उन फाइलों को ट्रांसकोड करना जरूरी है। जहां आप एक निश्चित स्पेस बनाकर काम करना चाहते हैं और इस कार्य में काफी समय लगता है। साथ ही, आपके पास फाइलों को मैन्युअल रूप से ट्रांसकोड करने का विकल्प भी है, लेकिन मैन्युअल प्रोसेस में समुचित व्यवस्था होनी बहुत जरूरी है। खराब व्यवस्था के फलस्वरूप, पूरा प्रॉक्सी डेटा विंडो से बाहर फेंक दिया जा सकता है।

 

साथ ही, वीडियो एडटिंग करते समय वीडियो क्वालिटी खराब होगी, जिसके साथ आप काम करने जा रहे हैं। यह भी ध्यान दिया जाना चाहिए कि यदि आपके पास हाई स्पीड वाला लैपटॉप है, तो आपको ऑफलाइन वीडियो एडटिंग से दूर रहना चाहिए।क्योंकि यह आपके लैपटॉप की स्पीड को धीमा कर देगा।

ऑफलाइन वीडियो ए़डटिंग वाले सॉफ्टवेयर

कई ऐसे वीडियो एडिटर्स हैं जो ऑफलाइन वीडियो एडटिंग का समर्थन करते हैं। इसलिए हमने आपके लिये नीचे कुछ सॉफ्टवेयर के बारे में जानकारी उपलब्ध कराई है। यह सबसे लोकप्रिय वीडियो एडिटंग एप्स में से एक है। इस सॉफ्टवेयर में बहुत से प्रोजेक्ट पर वर्क किया जाता है. Adobe Premiere का सबसे ज्यादा इस्तेमाल वीडियो मिक्सिंग और एडटिंग के लिये किया जाता है. इसमें प्रॉक्सी फाइल्स को इनिशियल प्रोसीजर से क्रिएट किया जाता है।

जानिए, ऑफलाइन वीडियो एडीटिंग के बेस्‍ट सॉफ्टवेयर

Final Cut Pro X

Final Cut Pro एप्पल का एक ऐसा सॉफ्टवेयर जिसका प्रयोग करके हम डिजीटल वीडियो एडीटिंग, कम्पोजिटिंग कर सकते हैं। यह दो वर्जन में उपलब्ध है। आप एप्पल सिस्टम में ऑप्टीमाइज्ड और प्रॉक्सी मीडिया दोनों बना सकते हैं।

जानिए, ऑफलाइन वीडियो एडीटिंग के बेस्‍ट सॉफ्टवेयर

DaVinci Resolve

यह एक ऑफलाइन वीडियो एडटिंग सॉफ्टवेयर एक DaVinci वीडियो एडिटर के नाम पर बना है। यह एप्पल के मैक बुक के लिेए ही केवल उपलब्ध हैं। यह अपने इंटरनल वर्कफ्लो पर चलता है। यह सॉफ्टवेर रॉ फुटेज की तुलना में ऑप्टीमाइज्ड फाइलों का ज्यादा समर्थन करता है। और आप हमेशा इस ऐप को वरीयता के अनुसार बदल सकते हैं। अब जब आप ऑफलाइन वीडियो एडटिंग और सॉफ्टवेयर के बारे में काफी बातें जान चुके हैं, तो अब आप इसका इस्तेमाल कर सकते हैं!

Most Read Articles
 
Best Mobiles in India

English summary
Offline editing is also often known as proxy editing. It is a technique which is most often used in video editing for managing large files. There are many video editors which support offline video edit

बेस्‍ट फोन

तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X