Android Oreo हुआ लॉन्च, जानें टॉप 7 फीचर्स

Written By:

लंबे इंतजार के बाद गूगल ने एंड्राइड ऑपरेटिंग सिस्टम के नए संस्करण एंड्राइड O को आखिरकार आधिकारिक तौर पर लॉन्च कर दिया है। इसे ऑफिशियल नाम OREO दिया गया है। बता दें कि इसे गूगल की डेवलपर कॉन्फ्रेंस I/O 2017 में पेश किया गया था। हालांकि उससे पहले एंड्राइड O का पहला डेवलपर प्रीव्यू 21 मार्च को पेश किया गया था, जिसके बाद कंपनी ने इसका पब्लिक बीटा वर्जन अपडेट भी लॉन्च किया था। इसका बीटा वर्जन सामने आते ही यूजर्स को इसका बेसब्री से इंतजार था, जो अब पूरा हो चुका है।

Android Oreo हुआ लॉन्च, जानें टॉप 7 फीचर्स

पढे़ं- JioPhone में हो सकता है फ्रंट कैमरा, लीक इमेज से खुलासा

बता दें कि नया एंड्राइड वर्जन कई खास फीचर्स से लैस है, जो कि एंड्रॉइड यूजर्सर के एक्सपीरियंस को और भी बेहतर बना देगा। यहां हम आपको इसके टॉप 7 फीचर्स बताने जा रहे हैं।

लेटेस्ट टेक अपडेट पाने के लिए लाइक करें हिन्‍दी गिज़बोट फेसबुक पेज

Picture in picture-

एंड्रॉइड Oreo के खास फीचर्स में सबसे पहले आता है पिक्चर इन पिक्चर फीचर। इसमें वीडियो देखने के दौरान उसे ​​फ्लोटिंग विंडोज में कहीं भी स्क्रीन पर सेट किया जा सकेगा। इसके अलावा दो वीडियो भी एक साथ प्ले किए जा सकेंगे। साथ ही किसी ऐप के साथ इंटरेक्ट करते हुए वीडियो प्ले करने की जा सकेगी। यूजर्स ​वीडियो को ऑफ किए बिना होम पेज पर जाकर वीडियो के साथ मल्टी टास्किंग भी कर सकेंगे।

Auto fill-

इसके नाम से आप काफी हद तक इस फीचर के बारे में समझ गए होंगे। एंड्राइड O में ईमेल आईडी बनाने के लिए या फिर कोई ट्रान्जेक्शन आईडी बनाने के लिए आपको बार-बार अपनी डिटेल्स नहीं भरनी होंगी। एक बार जानकारी भरने के बाद गूगल इसे सुरक्षित स्टोर कर लेगा और अगली बार इसे ऑटोफिल कर ली जाएगी। अगर आप एक पासवर्ड मैनेजर ऐप का इस्तेमाल करतें हैं, तो एंड्राइड O आपको आपके डिवाइस पर ऑटोफिल के माध्यम से आसानी से सुरक्षित पहुंचा देता है।

पढ़ें- ये हैं टॉप 5 मोस्ट 'Addictive'एंड्राइड गेम्स

Better battery life-

गूगल एंड्राइड फोन के लिए हमेशा बैटरी फीचर पर काम करता आया है। डोज मोड के बाद Oreo में बेहतर बैटरी बैकअप और सुरक्षा को ध्यान में रखते हुए Vitals फीचर की भी सुविधा दी है। जो असल में OS की सुरक्षा और इसके ऑप्टिमाइजेशन को सही तरीके से चलाने में मदद करता है। इसके अलावा फोन में मौजूद सभी ऐप्स को यूजर्स स्कैन कर ऐप्स की ऑथेंटिसिटी जान सकते हैं।

Notification Channels-

नोटिफिकेशन चैनल्स में यूजर्स ऐप के हिसाब से नोटिफिकेशन स्टोर कर सकेंगे और रिंगटोन चेंज और अगल-अलग तरह के कैटे​गरी बना सकेंगे। अगर आप अभी तक बार-बार आते नोटिफिकेशन से परेशान थे, तो गूगल ने इसके लिए भी आपको ऑप्शन दिया है। यूजर्स नोटिफिकेशन्स को Snooze कर सकते हैं और चाहें तो Snooze के लिए टाइम लिमिट भी सेट कर सकते हैं।

Adaptive icons-

एंड्राइड O में कंपनी ने अडेप्टिव आईकॉन ऑप्शन दिया है, जिसमें फोन मॉडल और स्क्रीन साइज के हिसाब से आईकन शेप और स्टाइल बदल जाएंगे।

पढे़ं- स्मार्ट टीवी-फ्रिज ऐसे लीक कर सकते हैं आपकी निजी जानकारी

Smart Text Selection-

टेक्टिंग में नए फीचर शामिल होना बेस्ट फीचर कहा जा सकता है। स्मार्ट टेक्स्ट सेलेक्शन में यूजर्स फोन में केवल फिंगर टच के जरिए अपनी जरूरत के हिसाब से टेक्स्ट सिलेक्ट कर सकेंगे। स्मार्ट टेक्स्ट​ सिलेक्शन फीचर में एड्रेस, व्यावसायिक नाम और अन्य चयन को ऑटोमेटिकली सिलेक्ट कर टेक्स्ट को आसानी से चुना जा सकेगा।

Limit background-

फोन की बैटरी एंड्राइड यूजर्स के लिए सबसे बड़ा सवाल रहती है। एंड्रॉइड O में गूगल ने बैकग्राउंड को लिमिट कर दिया है। लिमिट बैकग्राउंड फीचर में यूजर्स अपने फोन की बैटरी को लॉन्ग टाइम के लिए सेव कर सकते हैं। साथ ही यूजर्स अपनी सुविधा और उपयोग के अनुसार खुद सेट कर सकते हैं कि बैकग्राउंड में कितने एप्स रन कराने हैं।


लेटेस्ट टेक अपडेट पाने के लिए लाइक करें हिन्‍दी गिज़बोट फेसबुक पेज



English summary
Here is the list of Android latest version Oreo's top seven features. For more detail read in hindi.
Please Wait while comments are loading...
इस दर्दनाक दास्‍तां को सुन रो पड़ेंगे आप, पति के सामने रोज पत्‍नी से होता था रेप, दो बच्‍चों को दिया जन्‍म
इस दर्दनाक दास्‍तां को सुन रो पड़ेंगे आप, पति के सामने रोज पत्‍नी से होता था रेप, दो बच्‍चों को दिया जन्‍म
7 साल बाद अपनी जमीं पर खेले दिनेश कार्तिक, इस खिलाड़ी की जगह ली
7 साल बाद अपनी जमीं पर खेले दिनेश कार्तिक, इस खिलाड़ी की जगह ली
Opinion Poll

Social Counting