Subscribe to Gizbot

E-Mails भी हो सकती हैं हैक, ऐसे करें सिक्योर

Written By:

लगभग सभी इंटरनेट यूजर्स इमेल्स का इस्तेमाल करते हैं। बिजनेस से रिलेटेड ई-मेल्स, पर्सनल ई-मेल्स और अन्य तरह की ई-मेल्स। ज्यादातर यूजर्स मेल के लिए गूगल सर्विस का इस्तेमाल करते हैं। लेकिन आपको बता दें कि कोई भी मेल सर्विस पूरी तरह सुरक्षित नहीं कही जा सकती है। ईमेल क्लाइंट याहू और जीमेल सुरक्षा का दावा तो करते हैं, लेकिन उसके बाद भी हैकर्स सेंधमारी कर ही लेते हैं। बता दें कि हैकर्स की नजर में सबसे ज्यादा आपके ई-मेल्स पर होती है। क्योंकि आपके मेल्स में कई महत्वपूर्ण जानकारियां होती हैं, जिन्हें हैक करके यूजर्स को काफी नुकसान पहुंचाया जा सकता है या ब्लैकमेल कर पैसों से सौदेबाजी की जा सकती है।

E-Mails भी हो सकती हैं हैक, ऐसे करें सिक्योर

ऐसे में अगर आप अपने मेल से कुछ ऐसे डिटेल्स भेज रहे हैं, जिन्हें आप बिल्कुल सुरक्षित रखना चाहते हैं, तो इसके लिए आप ProtonMail सर्विस इस्तेमाल कर सकते हैं। ये एक फ्री सर्विस है, जो आपके मेल को सुरक्षित रिसीवर तक पहुंचा देती है।

ये भी देखें- ट्विटर पर नहीं मिलेगा ब्लूटिक, कंपनी ने बंद किए अकाउंट वैरिफिकेशन

सबसे पहले आपको बता दें कि ये सर्विस प्रोटोनमेल इंड-टू इंड एन्क्रिप्शन पर काम करती है, ठीक वॉट्सएप की तरह। इसमें कोई भी थर्ड पार्टी आपके ई-मेल्स नहीं देख सकती है।

E-Mails भी हो सकती हैं हैक, ऐसे करें सिक्योर

ये भी देखें- इस कंपनी ने किया ऐलान, अब अनलिमिटेड प्लान पर मिलेगा कैशबैक

इस सर्विस जरिए यूजर्स के मेल की सभी जानकारियों को सुरक्षित रखता है। बता दें कि ProtonMail सर्विस में मेल भेजने पर एक पासवर्ड होता है, जिसके जरिए सिर्फ रिसीवर ही ये ई-मेल्स चैक कर सकेगा।

ये भी देखें- फ्लिपकार्ट के Billion Capture+ स्मार्टफोन में ये होंगे खास फीचर्स

इसके अलावा सेंडर इन ई-मेल्स के साथ एक टाइमर भी सेट कर सकता है। इस टाइमर के अनुसार उतने समय में ही ये ई-मेल्स अपने आप डीलिट हो जाएंगे और किसी थर्ड पार्टी की हैकिंग से मेल्स सुरक्षित हो जाएंगे।

English summary
secure your emails in gmail with the ProtonMail service. More detail in hindi.
Opinion Poll

Social Counting

पाइए टेक्नालॉजी की दुनिया से जुड़े ताजा अपडेट - Hindi Gizbot