Subscribe to Gizbot

अब मोबाइल पर पाएं मौसम संबंधी अलर्ट

Posted By:

लीक से हटकर की गई खोज में एक ऐसी प्रणाली विकसित की गई है जिसके माध्यम से आपके मोबाइल फोन पर मौसम संबंधी अलर्ट आ सकते हैं। तमिलनाडु में वेल्लोर इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी (वीआईटी) में स्कूल ऑफ मेकेनिकल बिल्डिंग साइंसेज के वरिष्ठ प्राध्यापक सत्याजीत घोष के मुताबिक, उनकी टीम ने छवि पर आधारित मोबाइल फोन अलर्ट (सचेतक) बनाए हैं।

पढ़ें: एंड्रायड फोन में कैसे चलाएं फास्‍ट जीपीएस

ये अलर्ट मौसम अनुसंधान और पूर्वानुमान (डब्ल्यूआरएफ) प्रणाली से जुड़े हुए हैं। घोष ने कहा, चक्रवात एलर्ट जान और संपत्ति बचा सकते हैं, लेकिन ये आम आदमी के पास आसानी से उपलब्‍ध होने चाहिए। हमारा शोध इस बात की खोज करता है कि कैसे डब्ल्यूआरएफ पूर्वानुमान मोबाइल दूरभाषी के साथ इंटरफेस हो सकता है, जोकि भारत के ग्रामीण इलाकों में गहरी पैठ रखता है।

पढ़ें: ये सिर्फ विशालकाए जानवर ही नहीं बल्‍कि कुछ खास है आपके लिए

'ऐटमेस्फोरिक साइंस लेर्ट्स' पत्रिका में प्रकाशित लेख में कहा गया कि वीआईटी के कंप्यूटर वैज्ञानिक फेलिन चक्रवात की उत्पति, फैलाव और भूस्खलन को खोज निकालने में सक्षम थे। अधिकारिक तौर पर इसे कैटेगरी 5 के एक उष्णकटिबंधीय चक्रवात के रूप में वर्गीकृत किया गया था। इस तूफान ने भारत में अक्टूबर, 2013 को दस्तक दी थी। इससे 120 लाख से अधिक लोग प्रभावित हुए थे।

पढ़ें: स्‍टॉप मोशन तकनीक से बनाया गया 100 न्‍यूड मॉडलों का प्रचार

घोष ने कहा, इस पलायन ने तुरंत एक ऐसी प्रभावी चेतावनी प्रणाली की जरूरत पर ध्यान खींचा जो कि अधिकांश आबादी को मौसम के संबंध में आगाह कर सके। इन सूचनाओं को फोन के लिए छवियों में तब्दील कर हमने आम नागरिकों के लिए एक सुलभ पूर्वानुमान और चेतावनी प्रणाली बनाई है। निष्कर्ष निकाला गया कि मोबाइल के लिए विकसित मौसम सचेतक प्रणाली एक अनुमान के अनुसार, 97 प्रतिशत आबादी तक पहुंच सकती है।

मौसम की जानकारी पाने के लिए अपने एंड्रायड मोबाइल में डाउनलोड करें ये एप्‍लीकेशन

पढ़ें: स्‍मार्टफोन से कंट्रोल करिए अपने पार्टनर के अंडरगारमेंट

लेटेस्ट टेक अपडेट पाने के लिए लाइक करें हिन्‍दी गिज़बोट फेसबुक पेज

Weather Channel

वेदर चैनल एप्‍लीकेशन में कई विजिट दिए गए हैं जिन्‍हें आप अपनी सुविधा अनुसार फोन में की स्‍क्रीन में सेट कर सकते हैं। हालाह‍ि इसे कुछ लोग पसंद करते हैं तो कुछ नहीं। एप्‍लीकेशन में नए अपडेट आने के बाद इसमें कई बदलाव किए गए हैं जिससे एप्‍लीकेशन और बेहतर काम करने लगी है। एप्‍लीकेशन को डाउनलोड करने के लिए क्ल्कि करें

Radar Now

राडार नॉओं का इंटरफेस कॉफी शानदार है। इसमें कोई भी स्‍वाइप स्‍क्रीन नहीं दी गई है। अगर आप अपने फोन की स्‍क्रीन में छोटी स्‍क्रीन वेदर अपडेट चाहते हैं तो राडार नाओं एप्‍लीकेशन डाउनलोड कर सकते हैं। एप्‍लीकेशन को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें ।

AccuWeather

एक्‍यू वेदर काफी पॉपुलर एप्‍लीकेशन है जिसमें ढेर सारे फीचर दिए गए हैं। इसमें ऐड हटाने का ऑप्‍शन भी दिया गया है लेकिन इसके लिए आपको छोटी सी रकम खर्च करनी होगी। एप्‍लीकेशन में डेस्‍क क्‍लॉक के अलावा कई स्‍टाइल के विजिट दिए गए हैं। एप्‍लीकेशन को डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें

WeatherPro

वेदर प्रो एप्‍लीकेशन का इंटरफेस आपको पसंद आएगा। इसमें कई वेदर चार्ट, राडार, डेली फोरकास्‍ट कई दूसरे फीचर दिए गए हैं। वेदर प्रो को डाउनलोड करने के लिए अपको छोड़ी रकम खर्च करनी पड़ेगी क्‍योंकि ये फ्री एप्‍प नहीं हैं। एप्‍लीकेशन कोा डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें।

WeatherBug Elite

वेदरबग एप्‍लीकेशन में स्‍टैंर्डड फीचर जैसे हर घंटे का मौसम या फिर पूरी महिने के मौसम का हाल आप जान सकते हैं। एप्‍लीकेशन में दिए गए विजिट का टेक्‍ट आप अपनी पसंद के अनुसार सेट कर सकते हैं।


लेटेस्ट टेक अपडेट पाने के लिए लाइक करें हिन्‍दी गिज़बोट फेसबुक पेज

ईडी को मिली नीरव मोदी की 176 स्टील की अलमारियां, 30 करोड़ का बैंक बैलेंस भी फ्रीज
ईडी को मिली नीरव मोदी की 176 स्टील की अलमारियां, 30 करोड़ का बैंक बैलेंस भी फ्रीज
South Western Railway: ग्रुप डी के बाद ग्रुप सी के पदों पर नियुक्तियां, 10 दिन के अंदर करें अप्लाई
South Western Railway: ग्रुप डी के बाद ग्रुप सी के पदों पर नियुक्तियां, 10 दिन के अंदर करें अप्लाई
Opinion Poll

Social Counting

पाइए टेक्नालॉजी की दुनिया से जुड़े ताजा अपडेट - Hindi Gizbot