रो पड़ेंगे आप गूगल इंडिया का ये नया प्रचार देखकर

Posted By:

भारत और पाकिस्‍तान बटवारे के समय दो दोस्‍तों की बिछड़ी दास्‍तान को गूगल इंडिया ने अपने प्रचार के द्वारा बड़ी ही खूबसूरती है साथ पेश किया है। गूगल के नए ऐड में भारत और पाकिस्‍तान में रह रहे दो दोस्‍तों की कहानी दिखाई गई है जो बचपन में तो बिछड़ गए थे लेकिन आज भी उनके दिलों में एक दूसरे की यादें जिंदा थी।

गूगल के नए प्रचार की शुरुआत दिल्‍ली से होती है जहां पर बलदेव अपनी मुंबई से आई पोती को पाकिस्‍तान में रह रहे यूसुफ और अपने बचपन की बातें बता रहे हैं कि कैसे वे बचपन में पतंग उड़ाते थे और बाद में यूसुफ की मिठाई की दुकान से झरझरिया चुरा कर खाते थे।

पढ़ें: 6 आदतें जो आपकी बैटरी को रखेंगी सुरक्षित

बलदेव की पोती शाम के समय अपने लैपटॉप पर अपने दादा की सभी बातों को गूगल पर सर्च करती है और आखिर में पाकिस्‍तान में रह रहे यूसुफ के पोते को नंबर लगाकर उनसे उनके बचपन के दोस्‍त बलदेव द्वारा कहीं गई सारी बातें बताती है, यूसुफ का पोता अपने फोन से पासपोर्ट एप्‍लाई करने की जानकारी गूगल में सर्च करके अपने दादा और यूसुफ के साथ दिल्‍ली जाने के लिए निकल पड़ता है।

पढ़ें: जापानियों द्वारा किए गए कुछ बेहुदा अविष्‍कार

वहां दिल्‍ली में बलदेव की पोती सुमन यूसुफ को लेने के लिए टैक्‍सी में गूगल सर्च से फ्लाइट टाइम चेक करती है और टैक्‍सी वाले से जल्‍दी चलने को कहती है। एयरपोर्ट से यूसुफ को लेकर सुमन घर पहुंचती है जहां पर बलदेव उसे पहचान नहीं पाता लेकिन जैसे ही युसूफ बलदेव को बचपन के नाम बल्‍लू कह कर पुकारता है उसे याद आ जाती है कि वो उसके बचपन का दोस्‍त बल्‍लू है।

गूगल ने बड़ी खूबसूरती के साथ दो दोस्‍तों के मिलने की पूरी दास्‍ता एक छोटे से ऐड द्वारा बयां की है। गूगल ने अपने इस ऐड को गूगल प्‍लस पर शेयर भी है।

<center><center><iframe width="100%" height="390" src="//www.youtube.com/embed/gHGDN9-oFJE" frameborder="0" allowfullscreen></iframe></center></center>

Please Wait while comments are loading...
नृत्य करती महिला को पीएम की मां बताकर फंसी किरण बेदी, बाद में दी सफाई
नृत्य करती महिला को पीएम की मां बताकर फंसी किरण बेदी, बाद में दी सफाई
Chhath Pooja 2017: जानिए छठ पूजा के बारे में ये खास बातें...
Chhath Pooja 2017: जानिए छठ पूजा के बारे में ये खास बातें...
Opinion Poll

Social Counting