खुशखबरी : 2020 तक घट जाएगी इंटरनेट डेटा की कीमत

By Neha

    टेलीकॉम कंपनियां हर रोज नए इंटरनेट डेटा प्लान पेश कर रही हैं और दावा करती हैं कि ए अभी तक का सबसे सस्ता प्लान है। साल 2020 के बाद आपको इंटरनेट डेटा के लिए अपनी जेब ज्यादा ढीलीनहीं करनी होगी। एक नई रिपोर्ट के मुताबिक, भारतीय इंडियन यूजर्स को 2020 तक प्रति जीबी डाटा के लिए 50 रुपए से ज्यादा नहीं चुकाने होंगे।

    पढ़ें- HTC U11 : इस फोन में दिया गया है एक खास फीचर जो किसी और में नहीं मिलेगा

    खुशखबरी : 2020 तक घट जाएगी इंटरनेट डेटा की कीमत

    पढ़ें- वॉट्सएप यूजर्स के लिए खुशखबरी, सरकार ने किया खास सुविधा का ऐलान

    लेटेस्ट टेक अपडेट पाने के लिए लाइक करें हिन्‍दी गिज़बोट फेसबुक पेज

    रिपोर्ट में जानकारी-

    ANALYSYS MASON की तरफ से जारी एक रिपोर्ट में कहा गया कि 2016 में प्रति जीबी डाटा के लिए यूजर्स को 228 रुपए देने होते थे, वहीं 2020 में ए कीमत घटकर सिर्फ 50 रुपए तक रह जाएगी।

    डेटा खपत बढ़ेगी-

    रिपोर्ट में कहा गया कि जब डाटा की कीमत प्रति जीबी 50 रुपए हो जाएगी, तो इंटरनेट की खपत भी बढ़ने लगेगी। तब 4G LTE डेटा का यूसेज 6-7 जीबी प्रति महीने तक हो जाएगी। 3G डाटा का उपयोग 2020 तक 1.5 से 2 जीबी तक पहुंचने की सम्भावना है। ऐसा इसलिए क्योंकि 4G आने के बाद 3G डाटा कीमतों में गिरावट आने की उम्मीद है।

    80 फीसदी 4जी यूजर्स-

    रिपोर्ट में सामने आया है कि डेटा की कीमत गिरने का सबसे बड़ा कारण है कि 2020 तक 80 फीसद भारतीय जनसंख्या 4G फोन खरीद पाएगी। इसकी एक बड़ी वजह जियो भी है। जियो के मार्केट में न एंटर होने पर ए आंकड़ा 68 फीसद तक ही पहुंच पाता।

    वॉयस भागीदारी कम करने पर जोर-

    रिपोर्ट में कहा गया कि भारत में वॉयस की भागीदारी अभी भी 60-70 परसेंट के हाई लेवल पर है। अगर बाहरी देशों से इनकी तुलना की जाए, तो ए बहुत अधिक है। जल्दी ही भारत को इवॉयस की भागीदारी 30-40 फीसदी करना होगा। लोगों को इंटरनेट यूज करने के लिए प्रोत्साहित कहना होगा, जिसके लिए प्रति जीबी कॉस्ट भी घटानी होगी। यूजर को 30 से 40 रुपए में प्रति जीबी में डेटा उपलब्ध कराना होगा।

    कंपनियों को रहना होगा तैयार-

    इसके अलावा, इन ऑपरेटर्स को बड़ी संख्या में स्पेक्ट्रम की भी आवश्यकता होगी। जिससे ग्राहकों को बेहतर कवरेज प्रदान की जा सके। इसी के साथ अगर डाटा यूसेज बढ़ेगा तो ट्रैफिक भी बढ़ेगा, इसे सही तरीके से संभालने के लिए भी कंपनियों को तैयार रहना होगा। 50 रुपए प्रति जीबी तक दरों को घटने के लिए टेलिकॉम कंपनियों को 5GB प्रति महीने डाटा यूसेज प्रति सब्सक्राइबर का टारगेट रखना होगा।

    बढ़ेगा मार्केट कॉम्पिटीशन-

    इस पूरी रिपोर्ट के बारे में विशेषज्ञों का कहना है कि VoLTE के आने से और जियो की तरफ से शुरू किए जा रहे सस्ते VoLTE फोन्स की वजह से मार्केट में प्रतिस्पर्धा बहुत बढ़ जाएगी। यह आंकड़ें जियो के आने वाले 4G VoLTE फीचर फोन के सस्ती कीमत में आने की सम्भावना पर आधारित है।


    लेटेस्ट टेक अपडेट पाने के लिए लाइक करें हिन्‍दी गिज़बोट फेसबुक पेज

    English summary
    according to Analysys Mason latest report, internet data cost will deduct in 2020 and users have to pay 50 rupees for per gb data. for more detail read in hindi.
    Opinion Poll

    पाइए टेक्नालॉजी की दुनिया से जुड़े ताजा अपडेट - Hindi Gizbot

    X
    We use cookies to ensure that we give you the best experience on our website. This includes cookies from third party social media websites and ad networks. Such third party cookies may track your use on Gizbot sites for better rendering. Our partners use cookies to ensure we show you advertising that is relevant to you. If you continue without changing your settings, we'll assume that you are happy to receive all cookies on Gizbot website. However, you can change your cookie settings at any time. Learn more