लड़कों, अब दीवार गीली करने से पहले जरा गूगल कर लेना

Written By:

    भारतीय मर्दों को दुनियाभर में रहने वाले मर्दों के मुकाबले कई लिहाज में ज्यादा सुविधाएं हैं। इनमें से एक है कहीं भी पेशाब करने की सुविधा। अगर आप लड़के हैं, घर से करके नहीं आए हैं और ऊपर से आप भारत में हैं, तो आपको टेंशन लेने की जरूरत नहीं है क्योंकि सड़क का हर किनारा हर मोड़ आपको दीवार गीली करने की छूट देता है। हालांकि भारतीय सरकार द्वारा जोर-शोर से स्वच्छ भारत अभियान चलाया जा रहा है, लेकिन भई सूसू के टाइम हम इंडियन सब भूल जाते हैं।

    पढ़ें- आपका अकाउंट भी हो सकता है हैक, ऐसे करें बचाव !

    लड़कों, अब दीवार गीली करने से पहले जरा गूगल कर लेना

    पढ़ें- ढिंचाक पूजा नहीं, ये गाना यूट्यूब पर धूम मचा रहा है !

    लेटेस्ट टेक अपडेट पाने के लिए लाइक करें हिन्‍दी गिज़बोट फेसबुक पेज

    गूगल से ढूंढें टॉयलेट-

    बता दें कि आदत से मजबूर लोगों से निबटने के लिए शहरी विकास मंत्रालय ने पिछले साल एक पायलेट योजना शुरू की थी। इस योजना में लोग गूगल मैप के जरिए मिनटों में नजदीकी टॉयलेट ढूंढ सकते हैं। अब इस बारे में ताजा जानकारी ये है कि इस योजना को नई दिल्ली मुंसिपल काउंसिल आगे बढ़ा रही है। इस नए ऐप अपडेट में यूजर्स टॉयलेट को लेकर फीडबैक भी दे सकते हैं।

    दे सकेंगे फीडबैक-

    फीडबैक का मतबल है कि आपको बहुत जोर से लगी थी, जैसे-तैसे आपने एक टॉयलेट खोजा और वो भी गंदा, टूटाफूटा या बिना गेट का है, तो आप इसकी शिकायत कर सकते हैं। इसके लिए एनडीएमसी ने टॉयलेट लोकेटर अवेयरनस कैंपेन लॉन्च किया है, जिसे 'टॉयलेट करेंगे सर्च, टॉयलेट रखेंगे स्वच्छ' नाम दिया गया है। बता दें कि ये कैंपेन 12 जुलाई से 11 अगस्त तक चलेगा।

    क्लिन टॉयलेट को मिलेगा अवॉर्ड-

    स्वच्छ भारत मिशन के डायरेक्टर और शहरी विकास मंत्रालय के ज्वॉइंट सेकेट्री प्रवीन प्रकाश ने कहा कि लोगों को टॉयलेट पर फीडबैक देने के लिए प्रेरित किया जाएगा और उनकी रेटिंग के आधार पर सबसे साफ़ टॉयलेट को मोस्ट क्लिन का अवॉर्ड दिया जाएगा।

    फीटबैक के बाद होगा सुधार-

    मंत्रालय चाहता है कि लोग ज्यादा से ज्यादा फीडबैक दें, जिसके आधार पर उन टॉयलेट को साफ-सुधरा किया जा सके। इस वक़्त गूगल मैप पर लगभग 333 टॉयलेट दिखते हैं।

    अन्य पब्लिक टॉयलेट का भी फीडबैक दे सकेंगे-

    बता दें कि मंत्रालय के इस कैंपेन की एक खास बात ये भी है कि लोग मुंसिपल टॉयलेट कॉम्प्लेक्स के अलावा मॉल के टॉयलेट, पेट्रोल पंप और दूसरे सार्वजनिक शौचालय शामिल किए जाएंगे।

    स्वच्छ भारत अभियान-

    बता दें कि देश में स्वच्छ भारत अभियान के बाद से ही देश में गंदगी की सफाई और लोगों की आदत बदलने को लेकर तरह-तरह के प्रयोग किए जा रहे हैं। इसके लिए ऐप भी लॉन्च किया जा चुका है। उम्मीद है जल्द ही देश को पूर्णत: स्वच्छ घोषित किया जाएगा।


    लेटेस्ट टेक अपडेट पाने के लिए लाइक करें हिन्‍दी गिज़बोट फेसबुक पेज

    English summary
    Google Maps now have available information about thousands of public toilets in NCR and now users can give their feedback on these toilet. for more read in hindi.
    Opinion Poll

    पाइए टेक्नालॉजी की दुनिया से जुड़े ताजा अपडेट - Hindi Gizbot

    X
    We use cookies to ensure that we give you the best experience on our website. This includes cookies from third party social media websites and ad networks. Such third party cookies may track your use on Gizbot sites for better rendering. Our partners use cookies to ensure we show you advertising that is relevant to you. If you continue without changing your settings, we'll assume that you are happy to receive all cookies on Gizbot website. However, you can change your cookie settings at any time. Learn more