स्नैपडील को जबरदस्त झटका, 2015 करोड़ के घाटे पर हुआ सौदा

By Neha
|

ई-कॉमर्स साइट स्नैपडील के लिए ये बुरा दौर चल रहा है। पिछले कुछ समय से कंपनी के अधिग्रहण की खबरें सामने आ रही थी, इसी बीच स्नैपडील की सहयोगी कंपनी ई-वॉलेट ऐप फ्रीचार्ज के बिकने की खबर सामने आई। फ्री चार्ज को ऐक्सिस बैंक 385 करोड़ रुपए में खरीद रहा है। स्नैपडील ने ये सौदा करीब 2015 करोड़ के घाटे पर तय किया है।

 
स्नैपडील को जबरदस्त झटका, 2015 करोड़ के घाटे पर हुआ सौदा

पढ़ें- WOW डुअल-डिस्प्ले के साथ Meizu Pro 7 और Meizu Pro 7 Plus लॉन्च

बता दें कि कुछ समय पहले खबरें ये भी आ रही थीं कि फ्रीचार्ज को फ्लिपकार्ट भी खरीदने वाला है, लेकिन अब पुष्टि हो चुकी है कि मोबाइल ट्रांजैक्शन ऐप फ्रीचार्ज को भारत का तीसरा बड़ा प्राइवेट ऐक्सिस बैंक इस सर्विस को खरीद रहा है। रिपोर्ट्स में सामने आया है कि ये डील कैश में होगी।

पढ़ें- वीवो ने बताया आखिर क्‍यों निकाला कर्मचारियों को नौकरी से

2015 में स्नैपडील की पेरेंट कंपनी जैस्पर इनफोटेक ने फ्रीचार्ज का अधिग्रहण 2,400 करोड़ रुपए में किया था। तब ये कंपनी का भारत का दूसरा सबसे बड़ा सौदा था और कंपनी ने करीब इसे 2,015 करोड़ के घाटे पर बेचने जा रही है। हालांकि ऐक्सिस बैंक 80 करोड़ रुपए के रेवेन्यू वाले फ्रीचार्ज के सौदे को बैंक के स्ट्रैटिजी के लिए काफी अहम मान रहा है।

पढ़ें- इन शाओमी स्मार्टफोन पर जल्द ही मिलेगा MIUI 9 अपडेट वर्जन

ऐक्सिस बैंक के चीफ फिनांसियल ऑफिसर जयराम श्रीधरन ने कहा है कि यह अधिग्रहण बैंक के कस्टमर बेस को डबल कर सकता है और यह डिजिटल जर्नी में छलांग की तरह है। इस डील के लिए रेग्यूलेटरी क्लियरेंस दो महीनों में मिल जाएगा। इसके बाद बैंक फ्रीचार्ज वॉलेट बिजनेस को अपने बिजनेस में मिला लेगा।

 
Best Mobiles in India

English summary
E-Wallet app freecharge has acquired by Axis Bank. For more detail read in hindi.

बेस्‍ट फोन

तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X