यूजर्स से बात करेगा फेसबुक का Talking Robot

Written By:

दिग्गज सोशल नेटवर्किं साइट फेसबुक अपने यूजर्स के लिए नए-नए फीचर्स पेश करता रहता रहता है। कुछ समय पहले खबरें आ रही थीं कि फेसबुक अपना टीवी शो ला सकता है। वहीं अब खबर आ रही है कि फेसबुक अब एक टॉकिंग रोबोट बनाने जा रहा है। ये रोबोट यूजर्स से चैट के साथ बात भी कर सकेगा। फेसबुक अपने इस रोबोट को टॉकिंग रोबोट नाम देगा, जो यूजर्स से वॉयस के जरिए इंटरेक्ट कर सकेगा।

रोंगटे खड़े कर सकती है इस रोबोट से जुड़ी जानकारी

यूजर्स से बात करेगा फेसबुक का Talking Robot

वो फ्यूचर टेक्नोलॉजी, जो इंसानी अस्तित्व को डाल सकती है खतरे में

लेटेस्ट टेक अपडेट पाने के लिए लाइक करें हिन्‍दी गिज़बोट फेसबुक पेज

टॉकिंग रोबोट फीचर्स-

फेसबुक के टॉकिंग रोबोट में ऐप्पल सिरी और अमेजन एलेक्सा की तरह वॉयस असिस्टेंट फीचर्स शामिल होंगे। 'द सन' की रिपोर्ट के मुताबिक, यह रोबोट यूजर्स से चैट करेगा और उनकी समस्याओं को दूर करेगा।

फेसबुक ने नहीं की है पुष्टि-

अपने टॉकिंग रोबोट को लेकर फिलहाल फेसबुक की तरफ से कोई आधिकारिक बयान नहीं आया है। हालांकि फेसबुक के टेक्नोलॉजी एक्सपर्ट टॉकिंग रोबोट बनाने की खबरें लगातार आ रही हैं।

स्मार्टफोन भी ला सकता है फेसबुक-

जुलाई में खबर आई थी कि फेसबुक अपना स्मार्टफोन ला रहा है. जो कि मौजूद स्मार्टफोन से एकदम अलग होगा और इसमें एडवांस टेक्नोलॉजी दी जाएगी. इसमें स्पीकर, माइक्रोफोन, जीपीएस और टचस्क्रीन फीचर्स शामिल होंगे. हालांकि, इस खबर पर भी फेसबुक की तरफ से कोई बयान नहीं आया था।

स्मार्ट स्पीकर की भी है चर्चा-

बता दें कि कुछ समय पहले ये भी रिपोर्ट सामने आई थीं कि फेसबुक अगली साल तक स्मार्ट स्पीकर ला सकता है। रिपोर्ट्स में दावा किया जा रहा है कि ये स्पीकर 15 इंच के टच पैनल के साथ आएगा और इसका निर्माण पेंटागन टेक्नोलॉजी कर रही है।

क्या भविष्य में सिर्फ बात करेगा फेसबुक-

अमेरिकी फ्यूचरिस्ट मार्टिन फोर्ड का कहना है कि फेसबुक बातचीत करने वाली AI टेक्नोलॉजी पर फोकस कर रहा है। फेसबुक चाहता है कि भविष्य में लोग स्मार्टफोन पर टाइपिंग की जगह सिर्फ बातचीत करें। अगर ऐसा वाकई करता है, तो फ्यूचर में फेसबुक पर यूजर्स सिर्फ वॉयस के जरिए ही इंटरेक्ट करेंगे।

आर्टिफिशियल इंटेलीजेंस ने डेवलप कर ली थी लैंग्वेज-

हाल ही में फेसबुक चर्चा में था, जब उसके आर्टिफिशियल इंटेलीजेंस ने खुद की कोड लैंग्वेज डेवलप कर ली थी, जिसे कंट्रोल करना मुश्किल था। इसके बाद फेसबुक ने इस प्रोग्राम को खत्म करना ही ठीक समझा क्योंकि जब तक फेसबुक को इसकी जानकारी हुई, तब तक ये आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस प्रोग्राम काफी डेवलप हो चुका था।


लेटेस्ट टेक अपडेट पाने के लिए लाइक करें हिन्‍दी गिज़बोट फेसबुक पेज



English summary
populer social networking site Facebook trying to develop a talking robot for users. for more detail read in hindi.
Please Wait while comments are loading...
SOLAR ECLIPSE 2017 Live:शुरू हुआ सूर्य ग्रहण, 2:34 बजे होगा खत्‍म
SOLAR ECLIPSE 2017 Live:शुरू हुआ सूर्य ग्रहण, 2:34 बजे होगा खत्‍म
INDvSL: आज एक अक्टूबर होता तो NOT OUT होते रोहित शर्मा
INDvSL: आज एक अक्टूबर होता तो NOT OUT होते रोहित शर्मा
Opinion Poll

Social Counting