Moon Missions in 2023 : NASA से ISRO तक 5 बड़े चंद्रमा मिशन जो उड़ान भरने के लिए हैं तैयार

|
NASA से ISRO तक 5 बड़े चंद्रमा मिशन जो उड़ान भरने के लिए हैं तैयार

पृथ्वी से सबसे दूर की आकाशगंगा (GN-z11) को देखने से लेकर किसी अंतरिक्ष यान से टकराकर किसी एस्टेरॉयड की कक्षा को ट्रांसफर करने तक, वैज्ञानिकों ने 2022 में कई नए मील के पत्थर हासिल किए। लेकिन ऐसा लगता है कि 2023 में सभी का ध्यान चंद्रमा पर होगा। कई अंतरिक्ष एजेंसियां हमारे एकमात्र प्राकृतिक उपग्रह को देखने और तलाशने के लिए एक डेस्टिनेशन के रूप में देख रही हैं। जबकि संयुक्त राज्य अमेरिका और रूस के बीच चंद्रमा की दौड़ दशकों पहले खत्म हो गई थी, हमें अभी भी याद है जब नील आर्मस्ट्रांग और एडविन एल्ड्रिन चंद्रमा की सतह पर उतरे थे। अब, एक नई अंतरिक्ष दौड़ बन रही है। जिसमें नासा से लेकर भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन (ISRO) सभी इसमें भाग ले रहे हैं। 2023 में स्थापित होने वाले 5 बड़े चंद्रमा मिशनों के बारे में जानने के लिए चालिए आगे बढ़ते हैं।

 

1 - NASA Lunar Flashlight (लूनर टॉर्च)

मोटे तौर पर एक ब्रीफकेस के आकार का, लूनर टॉर्च एक बहुत छोटा सैटेलाइट है जिसे 11 दिसंबर को लॉन्च किया गया था। सैटेलाइट को Near-infrared लेजर और स्पेक्ट्रोमीटर से लैस किया गया है जो चंद्रमा के दक्षिणी ध्रुव के पास स्थायी रूप से छाया वाले क्षेत्रों में बर्फ का मानचित्रण करेगा। मिशन के पीछे का कारण क्रेटर के अंदर पानी, बर्फ जमा की मौजूदगी को देखना है जो भविष्य के आर्टेमिस मिशनों के लिए चंद्र सतह पर एक वैल्युएबल इन-सीटू रिसोर्सेज होगा। यह अगले तीन महीनों में चांद पर पहुंच जाएगा।

2 - Chandrayaan-3 (चंद्रयान-3)

चंद्रयान -3 जुलाई 2019 में चंद्रयान -2 मिशन के बाद आता है जो अंततः प्रज्ञान (wisdom at last) रोवर के लिए एक प्रॉपर लैंडिंग को अंजाम देने में फेल रहा। चंद्रयान -2 ने सबसे एडवांस जीएसएलवी-एमके 3 जियोसिंक्रोनस लॉन्च वाहन (vehicle) का यूज किया लेकिन विक्रम लैंडर के 7 सितंबर, 2019 को चंद्र सतह पर दुर्घटनाग्रस्त होने के बाद मिशन फेल हो गया। हालांकि, 2023 में चंद्रमा पर एक रोवर डाल सकता है।

 
NASA से ISRO तक 5 बड़े चंद्रमा मिशन जो उड़ान भरने के लिए हैं तैयार

3 - Hakuto-R mission by iSpace (Hakuto-R मिशन iSpace)

Hakuto-R iSpace द्वारा डिवेलप एक चंद्र लैंडर है, जो रोबोटिक अंतरिक्ष यान टेक्नोलॉजी में स्पेशलाइजेशन वाली एक निजी जापानी कंपनी है। मिशन को 11 दिसंबर को संयुक्त अरब अमीरात द्वारा नासा लूनर फ्लैशलाइट और राशिद रोवर, पहले चंद्र रोवर के साथ लॉन्च किया गया था। रोवर चंद्रमा पर उतरने वाला पहला निजी अंतरिक्ष यान होने के लिए भी विवाद में है। यह एटलस क्रेटर की ओर जा रहा है।

4 - Luna 25 by Roscosmos (लूना 25 रॉसकॉसमॉस)

रूसी अंतरिक्ष एजेंसी रोस्कोस्मोस ने जुलाई 2023 में लूना 25 मिशन को चंद्रमा पर लॉन्च करने का प्लान बनाया है जो 1976 में हुए लूना 24 मिशन के बाद आगे बढ़ेगी। मिशन का मेन उद्देश्य चंद्र लैंडिंग की तकनीक का परीक्षण करना है। अंतरिक्ष यान बोगुस्लावस्की नामक क्रेटर में चंद्रमा के दक्षिणी ध्रुव में उतरेगा।

5 - dearMoon (डियरमून)

एलोन मस्क के लीडरशिप वाली स्पेसएक्स के भी 2023 में चंद्र सतह पर अपनी पहली यात्रा के लिए उड़ान भर सकती है। जबकि लॉन्च डेट को अभी तक अंतिम रूप (final cut) नहीं दिया गया है, यह केवल आठ दिनों में चंद्रमा तक पहुंच सकता है। मिशन आठ लोगों के एक ग्रुप को चंद्रमा ले जाएगा और वापस लेकर आएगा। जापानी अरबपति युसाकु मेजावा ने इस यात्रा के सभी टिकट खरीद लिए हैं और दुनिया भर के लोगों को इस यात्रा में शामिल होने के लिए भर्ती किया है। इस ट्रिप के लिए भारत से अभिनेता देव जोशी को चुना गया है।

 
Best Mobiles in India

English summary
From sighting the farthest galaxy from Earth (GN-z11) to transferring an asteroid's orbit after it collided with a spacecraft, scientists achieved several new milestones in 2022. But it looks like in 2023 all the attention will be on the Moon. Several space agencies are eyeing our only natural satellite as a destination to observe and explore.

बेस्‍ट फोन

तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X