क्या फेसबुक पर ऑनलाइन रहकर देखते हैं पोर्न ? अब हो जाइए सावधान

By Neha

    घर और ऑफिस से हम लगभग पूरा दिन फेसबुक पर ऑनलाइन रहते हैं। इस दौरान हम कई वेबसाइट पर जाते हैं और अपने बहुत से काम निबटा लेते हैं, जैसे ऑनलाइन शॉपिंग, बिल पेमेंट, बैंकिंग वगैरह। लेकिन अगर आप फेसबुक पर ऑनलाइन रहते एडल्ट वेबसाइट पर जाते हैं, तो सावधान हो जाइए, क्योंकि ये आपको भारी पड़ सकता है।

    पढ़ें- अब टेलीकॉम कंपनी पूछेंगी, रिचार्ज का कितना पैसे देना चाहते हैं आप ?

    क्या फेसबुक पर ऑनलाइन रहकर देखते हैं पोर्न ? अब हो जाइए सावधान

    पढ़ें- OMG : बिना बैटरी चलेगा स्‍मार्टफोन !

    अगर आप फेसबुक पर लॉगिन रहते हुए किसी भी वेबसाइट पर जाते हैं, तो संभव है कि आपको ट्रैक किया जा रहा हो। यह आशंका तब ज्यादा होती है, जब आप किसी पोर्न वेबसाइट पर जाकर वीडियो देखते हैं। जब उस पॉर्न साइट पर फेसबुक का प्लगइन लगा हो। ऐसा इसलिए होता है क्योंकि फेसबुक यह ट्रैक करता है कि आप कौन सी वेबसाइट्स सर्फ कर रहे हैं। इस तरह से जुटाई जानकारी की मदद से बाद में वह आपकी पसंद के हिसाब से विज्ञापन दिखाता है।

    पढ़ें- बेस्ट जॉब खोजने में ये ऐप करेगा आपकी मदद !

    बता दें कि इस पूरा प्रोसेस फेसबुक की वर्क पॉलिसी का हिस्सा है। फेसबुक की डेटा पॉलिसी में साफ लिखा है कि वह यूजर की जानकारी कलेक्ट करते हैं, जब यूजर थर्ड पार्टी ऐप्स या वेबसाइट्स पर विजिट करते हैं और जो फेसबुक की सर्विसेज (लाइक बटन या फेसबुक लॉगइन ) इस्तेमाल करते है। इसमें यूजर की विजिट की गईं वेबसाइट्स और ऐप्स, उन वेबसाइट्स या ऐप्स पर फेसबुक सर्विसेज के इस्तेमाल की जानकारी शामिल होती है। इसके साथ ही ऐप या वेबसाइट के डिवेलपर या पब्लिशर फेसबुक को जो जानकारी देते हैं, वह भी इसमें शामिल है।

    पढ़ें- ये कंपनी दे रही है 16 रुपए में अनलिमिटेड इंटरनेट ऑफर

    द सन की रिपोर्ट के मुताबिक, शुरुआत में फेसबुक ने कहा था कि लाइक और शेयर ऑप्शन को यूजर्स को ट्रैक करने के लिए इस्तेमाल नहीं किया जाएगा। इसके बाद 2011 में फेसबुक ने कहा कि वह सोशल प्लगइन्स की जानकारी को 90 दिनों में डिलीट कर देते हैं और यूजर्स की ये जानकारी किसी के साथ शेयर नहीं की जाती है, लेकिन बाद में सामने आया कि फेसबुक Like, Share और Login With Facebook बटन के जरिए यूजर्स की एक्टिविटी पर नजर रखती है।

    पढ़ें- मोबाइल पर मिनटों में जानिए पेट्रोल-डीजल की रोज बदलती कीमतें !

    यूजर्स जब फेसबुक से लाइक और शेयर ऑप्शन वाले ऐप या वेबसाइट पर विजिट करते हैं, तो आपका डेटा को ALAMY नाम की फर्म कैप्चर करती है। फेसबुक ने कुछ समय पहले फेसबुक ट्रैक को स्वीकार करते हुए माना था कि यूजर्स को बेहतर और पसंद के अनुसार, ऐड्स दिखाने के लिए फेसबुक आपके द्वारा विजिट की जाने वालीं वेबसाइट्स को ट्रैक करता है।

    English summary
    Did you know that Facebook actively tracks you if you visit porn websites. Users are continually tracked through Facebook to show ads according to their liking.
    Opinion Poll

    पाइए टेक्नालॉजी की दुनिया से जुड़े ताजा अपडेट - Hindi Gizbot

    X
    We use cookies to ensure that we give you the best experience on our website. This includes cookies from third party social media websites and ad networks. Such third party cookies may track your use on Gizbot sites for better rendering. Our partners use cookies to ensure we show you advertising that is relevant to you. If you continue without changing your settings, we'll assume that you are happy to receive all cookies on Gizbot website. However, you can change your cookie settings at any time. Learn more